विधानसभा में पेश होगा अनुपूरक बजट

सदन में रखे जाएंगे पिछले दिनों लिए गए फैसले
14 दिसंबर से शुरू होगा यूपी विधानसभा का शीतकालीन सत्र

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा का शीत कालीन सत्र 14 दिसम्बर से शुरू होगा। इस सत्र में सरकार अनुपूरक बजट लाएगी। पिछले दिनों सरकार द्वारा मंत्रिपरिषद में पास कराए गए तमाम प्रस्तावों को भी कानूनी रूप देने के लिए सदन में पेश करेगी। वहीं विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी में है। समूचा विपक्ष सरकार को विभिन्न मुद्दों पर घेरेगा।
भाजपा सरकार का यह तीसरा सत्र होगा। पहला सत्र सरकार बनने के तुरंत बाद बुलाया गया था। उसके बाद ग्रीष्म कालीन सत्र आहूत किया गया। ग्रीष्म कालीन सत्र हंगामे की भेंट चढ़ गया था और विपक्ष ने अपना पूरा समय बहिष्कार में ही खर्च कर दिया था। अब फिर से सत्र शुरू हो रहा है। इसे शीतकालीन सत्र की संज्ञा दी जा रही है। सत्र में ज्यादा समय नहीं लगेगा। दरअसल भाजपा की यूपी सरकार विधानसभा में इस बार नए प्रस्ताव लाने जा रही है। इसके साथ अनुपूरक बजट को भी सदन में रखा जाएगा। पिछले छह महीने के दौरान सरकार ने जो मुद्दे राज्यमंत्रिपरिषद से सदन से पास होने की प्रत्याशा में पास करा लिए थे, उनको भी सदन में रखे जाने की तैयारी है।

कानू-व्यवस्था, जीएसटी और बेरोजगारी को लेकर हंगामा करेगा विपक्ष
सरकार की तैयारी के विपरीत विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी में है। सूत्रों की मानें तो शीतकालीन बजट भी विपक्ष के हंगामे की भेंट चढऩे की संभावना है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी जाति धर्म की राजनीति नहीं करती है और न ही समाज को बांटने का काम करती है। वह विकास और सबको सम्मान के साथ जीने का अवसर दिये जाने की पक्षधर है। भाजपा की तरह वह लोगों को भ्रमित नहीं करती है। वहीं विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित सदन को सौहार्दपूर्वक चलाने के लिए अच्छा माहौल बनाने की कोशिश में हैं। सदन शुरू होने से पहले सभी दलों से बात भी की जाएगी।

Pin It