राजधानी की हवा में घुल रहा जहर, कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने में नगर निगम फिसड्डी

स्मॉग को लेकर सीएम की सख्ती के बावजूद नहीं जागे जिम्मेदार, कार्रवाई के नाम पर हो रही खानापूर्ति
28 खाद्य एवं सफाई निरीक्षकों में 21 ने नहीं की कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ एक भी कार्रवाई

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। राजधानी में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण और स्मॉग को कम करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त निर्देश दे रखे हैं। शासन की ओर से सडक़ों पर पानी छिडक़ाव के साथ कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं लेकिन कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। शहर की हवा लगातार बिगड़ती जा रही है लेकिन जिम्मेदार अफसरों को इससे कोई फर्क पड़ता नहीं दिख रहा है।
राजधानी में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण और स्मॉग के कारण लोगों को गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ा रहा है। मुख्यमंत्री ने स्मॉग को कम करने के लिए सभी विभागों को व्यापक स्तर पर प्रयास करने के निर्देश दिए हैं। नगर निगम की ओर से सडक़ों पर पानी का छिडक़ाव तो किया गया लेकिन कूड़ा जलाने वालों पर कोई खास कार्रवाई नहीं की जा रही है। लिहाजा वातावरण में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ता जा रहा हैं। शहर में लगातार कूड़ा जलाने के मामले प्रकाश में आ रहे हैं। लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। नगर निगम के पास 28 खाद्य एवं सफाई निरीक्षक हैं जिसमें से कुछ अपना काम कर रहें है और कुछ अपनी जिम्मेदारियों से पीछा छुड़ाते नजर आ रहे हैं। आलम यह है कि लोग सडक़ किनारे कूड़ा जला रहे हैं। यही नहीं नगर निगम के सफाई कर्मी भी कई बार कूड़ा जलाने के मामलें में पकड़े गए हैं। शहर के विभिन्न क्षेत्रों में झाडू लगाने के बाद कूड़े की छोटी-छोटी ढेरी बनाकर उन्हें जलाया जा रहा है। इन सब के बावजूद नगर निगम कूड़ा जलाने वालों पर कार्रवाई में सुस्त है। नगर निगम के पिछले 20 दिनों के आंकड़ों पर नजर डाले तो कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की गई है। कूड़ा जलाने वालों पर जुर्माना लगाने के मामले में नगर निगम के जोन तीन, चार और छह बिल्कुल फिसड्डी साबित हुए हैं। इन जोनों में तैनात खाद्य एवं सफाई निरीक्षक इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। यही कारण है कि किसी ने भी कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ जुर्माना नहीं ठोका है। हालांकि जोन-एक की स्थिति सभी जोनों की अपेक्षा सही है। दूसरे नंबर पर जोन-सात ने दो हजार जुर्माना वसूला है। इसके अलावा सभी जोनों ने पांच सौ से अधिक की वसूली नहीं की। कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ नगर निगम के सभी जोनों से कुल 3500 रूपये जुर्माना वसूला गया है। इसके आलावा जोन-एक के 10 कर्मचारियों के एक-एक दिन के वेतन की कटौती की गई है। इस संबंध में अफसरों से बात करने पर उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए बताया कि उनके जोन में कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई है लेकिन कार्य की व्यस्तता के कारण अभी तक यह ब्यौरा बनायी गई लिस्ट में अपडेट नहीं कराया जा सका है।

कूड़ा जलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। सभी जोनों से ब्यौरा मांगा जाएगा। कार्य में हीलाहवाली करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।
उदयराज सिंह, नगर आयुक्त
कार्रवाई का ब्यौरा
(3 नवम्बर से 21 नवम्बर तक)
जोन स्पॉट फाइन
1 10 कर्मचारियों के
एक दिन का वेतन कटा
2 500 रुपये
3 शून्य
4 शून्य
5 500
6 शून्य
7 2000
8 500

Pin It