सूबे में कई स्थानों पर झड़पों के बीच जारी है मतदान, सीएम योगी ने मुस्कुराते हुए डाला वोट

कहीं ईवीएम खराब तो कहीं वोटरलिस्ट में नाम नहीं मेरठ में आईडी को लेकर एजेंट और वोटरों में भिड़ंत, पुलिस का लाठीचार्ज
शामली में प्रत्याशी पर नाश्ता कराने और चाय पिलाने का आरोप एक वीडियो ने मचाई खलबली

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव में पहले चरण का मतदान जारी है। 24 जिलों में चल रही इस चुनाव प्रक्रिया के दौरान कई जगह विरोध प्रदर्शन, अव्यवस्था और पोलिंग बहिष्कार की खबर है। कई जगह पुलिस को मामला शांत कराने में लाठियां भांजनी पड़ी। मतदान के दौरान ही एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें मतदाता का आरोप है कि उसने हाथी के निशान वाले बटन को दबाया लेकिन वोट कमल के फूल पर पड़ा। इस मामले में एडीशनल कमिश्नर ने कहा कि मीडिया ऐसे वीडियो पर ध्यान न दे। वहीं गोरखपुर में सीएम योगी ने भी मतदान किया। एक बजे तक लगभग 35 फीसदी मतदान हुआ।
पहले चरण के चुनाव में 24 जिलों की 230 नगर निकायों के लिए 1.10 करोड़ मतदाता प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। कुल 4325 सीटों के लिए 26314 प्रत्याशी चुनाव मैदान में डटे हैं। मतदान शाम पांच बजे तक होगा। आज मतदान के दौरान कई जगह से हिंसा की खबरे आई। सबसे ज्यादा बवाल मेरठ में हुआ। मेरठ के रशीद नगर में कांग्रेस महापौर प्रत्याशी के पति ने इवीएम में गड़बड़ी की बात कही। उन्होंने आरोप लगाया कि बटन कोई और दबा रहे हैं लेकिन वोट कमल पर जा रहा है। वहीं आशियाना स्थित रोजी पब्लिक स्कूल में आईडी को लेकर एजेंट और वोटरों में भिड़ंत हो गई। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठीचार्ज कर मामले को शांत किया। वहीं कसेरू बक्सर के पास पूर्व पार्षद जयवीर सिंह को वोटिंग के दौरान पुलिस द्वारा हिरासत में लिये जाने पर उनके समर्थकों ने हंगामा कर दिया। दूसरी तरफ सरधना में सेंट चाल्र्स कालेज में हंगामे के मकसद से पहुंचे कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया। वहीं आगरा में जज कंपाउंड के 1500 वोटरों के नाम मतदाता सूची से गायब मिले। लोगों ने नाम न होने पर विरोध जताया। कई जगह से वोटर लिस्ट से मतदाताओं का नाम गायब मिला जिसकी वजह से कई जगह हंगामा हुआ तो कई जगह लोग मायूस लौट गए। आगरा में भी कई जगह मतदाताओं ने हंगामा किया। आगरा के वॉर्ड 49 के राहुल नगर में फर्जी मतदान को लेकर लोगों ने बवाल काटा। यहां कई पार्टियों के प्रत्याशियों ने भाजपाइयों पर फर्जी मतदान का आरोप लगाया। वहीं सपाई इस बात को लेकर धरने पर बैठ गए हैं। इसके अलावा अमेठी में बूथ संख्या छह व नौ पर मतदाताओं की संख्या को लेकर कुछ विवाद हो गया। इन बूथों पर मतदाताओं की संख्या जितनी होनी चाहिए उससे दोगुनी है। विवाद बढऩे पर एसडीएम व सीओ मौके पर पहुंच मामले को शांत कराने में जुट गए। वहीं कानपुर के नौबस्ता थाना क्षेत्र के वार्ड 63 पोलिंग बूथ संख्या 326 में सुबह 2 ईवीएम मशीन खराब हो गईं। मतदान बाधित होने से गुस्साए लोगों ने मौके पर नारेबाजी व हंगामा शुरू कर दिया। मामला बढऩे पर नौबस्ता पुलिस मौके पर पहुंची और लाठीचार्ज कर दिया। अयोध्या, गोंडा, उन्नाव, हापुड़ में भी छिटपुट हिंसा की खबरें मिली। कानपुर में ही बाबूपुरवा थाना क्षेत्र के वार्ड 102 पर उस समय हंगामा हो गया, जब लोगों ने पोलिंग एजेंट पर जबरन वोटिंग का आरोप लगा दिया। इसके बाद हंगामा कर रहे लोगों को पुलिस ने खदेड़ा। मामले में 4 लोगों को हिरासत में
लिया गया है।

प्रथम चरण का चुनाव

जिले 24
वार्ड 4095
नगर निगम 5
नगर पालिका 71
नगर पंचायत 154
मतदाता 1.10 करोड़
मतदान केन्द्र 3731

जन्मदिन पर पिता-पुत्र साथ, भाई शिवपाल ने किया किनारा

अखिलेश यादव ने धूमधाम से मनाया मुलायम सिंह यादव का 79वां जन्मदिन
सपा पार्टी कार्यालय पर रहा जश्न का माहौल, वरिष्ठï नेताओं का दिखा जमावड़ा
अखिलेश के पुत्र पर प्यार लुटाते दिखे मुलायम

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन पूरे प्रदेश में धूमधाम से मनाया गया। राजधानी में भी पार्टी कार्यालय पर सपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष व पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पिता मुलायम सिंह का जन्मदिन धूमधाम से मनाया। मौके पर सपा के कई वरिष्ठï नेताओं ने भी नेता जी को जन्मदिन की बधाई दी। इस मौके पर शिवपाल सिंह यादव की गैरमौजूदगी चर्चा का विषय रही।
पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने अपने पिता का जन्मदिन मनाने के लिए पार्टी कार्यालय पर खास इंतजाम किया था। इस मौके पर मुलायम सिंह यादव सपा कार्यालय पहुंचे और अपने ऑफिस में काफी देर तक बैठे रहे। पार्टी के कई बड़े नेता उनको आयोजन में शिरकत करने के लिए बुलाने गए। उसके बाद मुलायम कार्यक्रम स्थल पहुंचे। कार्यक्रम के दौरान जैसे ही मंच पर पिता मुलायम सिंह यादव पहुंचे, बेटे अखिलेश यादव ने उनके पैर छुए। ये नजारा देखकर वहां मौजूद सभी सपाई खुशी से झूम उठे। इस दौरान सपाइयों ने मुलायम सिंह यादव जिंदाबाद, अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे लगाए। कार्यकर्ताओं के बीच मुलायम के 79वें जन्मदिन पर केक काटा गया। उनके सम्मान में लोकगीत गाए गए और वहां मौजूद बड़े नेताओं ने उनको फूलों का गुलदस्ता भेंट किया। मालूम हो कि नेता जी का यह जन्मदिन ऐसे मौके पर मनाया जा रहा है, जब पार्टी में विवाद काफी हद तक शांत हो चुका है। हालांकि सपा संरक्षक ने नई पार्टी न बनाने का ऐलान करके पहले ही संकेत दे दिया है कि वह अखिलेश यादव के साथ हैं। मुलायम अपने बेटे अखिलेश की राष्टï्रीय अध्यक्ष पद पर ताजपोशी होने को अपना आशीर्वाद भी दे चुके हैं, जबकि मुलायम के भाई शिवपाल यादव हालात को देखते हुए फिलहाल चुप्पी साधे हुए हैं। फिलहाल शिवपाल यादव आज भी इस कार्यक्रम में शरीक नहीं हुए।

Pin It