अंग्रेजों के एजेंट थे राजा और नवाब: आजम खां

लखनऊ। अपने बयानों की वजह से चर्चा में रहने वाले आजम खान ने फिल्म पद्मावती पर पहली बार अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा- फिल्में मजा लेने के लिए होती हैं और हमने नौ लखा गाने वाली एक अदाकारा को दो बार रामपुर से सांसद बनाया। आजम ने कहा, हम पिछले 40 साल से कह रहे हैं कि हिन्दुस्तान के तमाम नवाब और राजा अंग्रेजों के एजेन्ट थे। देश से नवाबों की नवाबी चली गई और राजाओं की राजाईयत चली गई है। तब भी लोगों की झूठी शान नहीं जा रही है। इतना ही नहीं जो कभी अंग्रेजों के बस्ते उठाया करते थे, वो अब फिल्म का विरोध कर रहे हैं। आजम खां ने मुगल-ए- आजम फिल्म की मिसाल देते हुए कहा कि फिल्म में अनारकली को सलीम की महबूबा बताया गया, जबकि इतिहास से इसका कोई वास्ता नहीं है। बाप से बेटे का मैदान-ए-जंग में मुकाबला हुआ, इसका भी इतिहास से कोई लेना-देना नहीं।

Pin It