राज्यपाल को सौंपी गई वाराणसी में हुई भगदड़ की जांच रिपोर्ट

न्यायिक जांच आयोग के अध्यक्ष ने राज्यपाल से की मुलाकात

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। वाराणसी में राजघाट पुल पर हुए भगदड़ की जांच रिपोर्ट न्यायिक जांच आयोग ने राज्यपाल राम नाईक को सौंप दी है। आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति राजमणि चौहान (सेवानिवृत्त)ने रविवार को राजभवन में नाईक से मुलाकात की और अपनी रिपोर्ट सौंप दी। यह जांच एक वर्ष एक माह से ज्यादा अवधि में पूरी हुई है।
राज्यपाल को चौहान ने तीन भागों की 536 पृष्ठ की जांच रिपोर्ट दी है। राज्यपाल के प्रवक्ता का कहना है कि वह रिपोर्ट का अध्ययन कर आवश्यक कार्रवाई के लिए राज्य सरकार को प्रेषित करेंगे। उल्लेखनीय है कि वाराणसी के राजघाट पुल पर 15 अक्टूबर, 2016 को हादसा हो गया था। उस दिन राजघाट पुल पर जयगुरुदेव श्रद्धालुओं द्वारा शोभा यात्र निकाली गई थी। कुप्रबंधन और अफरातफरी में भगदड़ मच गई। उस घटना में 25 लोगों की मौत हो गई और छह लोग घायल हो गए थे। राज्य सरकार ने घटना की न्यायिक जांच के लिए 17 अक्टूबर, 2016 को एकल सदस्यीय जांच आयोग का गठन किया। आयोग के अध्यक्ष चौहान ने अपनी टीम के साथ दिसंबर, 2016 से विधिवत जांच शुरू की। उन्होंने अफसर से संबंधित साक्ष्य भी मांगे और अपना पक्ष रखने के लिए सभी मौका दिया।

Pin It