फाइलेरिया नियंत्रण को स्वास्थ्य विभाग ने शुरू की कवायद

पोलियो अभियान की तर्ज पर 47 जिलों में चलाया जाएगा अभियान

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश से फाइलेरिया को जड़ से खत्म करने के लिए 47 जनपदों में तीन दिन का विशेष अभियान चलेगा। पोलियो की तर्ज पर चलाए जाने वाले इस अभियान की तारीखें अभी तय नहीं हैं। निकाय चुनाव के कारण कार्यक्रम आगे बढ़ा दिया गया है।
सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य वी हेकाली झिमोमी ने बताया कि भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुरूप राज्य सरकार ने उत्तर प्रदेश से फाइलेरिया को जड़ से समाप्त करने के लिए प्रदेश के 47 जनपदों में तीन दिवसीय सघन अभियान चलाने का निर्णय लिया है। अभियान के दौरान घर-घर जाकर फाइलेरिया की दवा एल्बेन्डाजाल एवं डीईसी दी जायेगी और इसके साथ ही फाइलेरिया से बचाव के लिए जागरूक भी किया जायेगा। उन्होंने कहा कि फाइलेरिया उन्मूलन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार कटिबद्ध है, इसलिए फाइलेरिया रोग के उन्मूलन को सर्वोच्च प्राथमिकताओं में शामिल किया गया है। अभियान में लगे वर्कर शहरी इलाकों सहित सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर लोगों को फाइलेरिया की दवा खिलायेंगे। इसके अतिरिक्त अलग-अलग जगहों पर बूथ भी बनाये जायेंगे, जहां फाइलेरिया की दवा वितरित की जायेगी। जिन जनपदों में फाइलेरिया उन्मूलन का अभियान चलाया जायेगा उनमें इलाहाबाद, अम्बेडकर नगर, अमेठी, औरैया, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बलरामपुर, बांदा, बाराबंकी, बरेली, बस्ती, चित्रकूट, देवरिया, फैजाबाद, फर्रूखाबाद, फतेहपुर, गाजीपुर, गोण्डा, गोरखपुर, हमीरपुर, हरदोई, जालौन, जौनपुर, कन्नौज, कानपुर देहात, कानपुर नगर आदि शामिल हैं।

Pin It