भाजपा कार्य समिति की बैठक का सीएम योगी ने किया उद्घाटन

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने की बैठक की अध्यक्षता

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कानपुर के पीएसआईटी में आयोजित भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए। उन्होंने कार्यसमिति की बैठक का उद्घाटन किया। इस बैठक में पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रभारी ओम माथुर के साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय तथा महामंत्री सुनील बंसल समेत कई अन्य पदाधिकारी भी मौजूद रहे।
इससे पहले सीएम योगी ने बैठक के आयोजन स्थल पीएसआईटी, भौंती में दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष में भाजपा के कार्यों से संबंधित प्रदर्शनी का भी उद्घाटन किया। दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष में भाजपा के कार्यों से संबंधित यह प्रदर्शनी कार्य समिति स्थल भौंती ही में लगाई गई है। कानपुर में हो रही भाजपा राज्य कार्य समिति की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही भाजपा के प्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम प्रकाश माथुर, प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, राष्ट्रीय महामंत्री अरुण सिंह समेत कई पदाधिकारी शामिल हैं। इस बैठक में वंदेमातरम के बाद क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह ने कार्यसमिति में शामिल सदस्यों का स्वागत किया। इसके बाद प्रदेश अध्यक्ष श्री पांडेय ने प्रदेश कार्यसमिति के प्रस्तावों पर चर्चा शुरू की। प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में तय किए गए एजेंडे को सदस्यों के सामने सिलसिलेवार रखा। प्रदेश अध्यक्ष ने संगठन के छह महीने के कार्यों की रिपोर्ट पेश की। बताया कि संगठन ने कैसे लोगों के बीच पैठ बनाने की कोशिश की है। इस बैठक की अध्यक्षता भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पाण्डेय कर रहे हैं। उनके यूपी प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार कार्यसमिति की बैठक हो रही है। इसलिए बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इस बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ अपनी पूरी कैबिनेट के साथ मौजूद रहे।

कानपुर में चल रही भारतीय जनता पार्टी की दो दिवसीय कार्य समिति में एक विवाद खड़ा हो गया है। वहां पर लगे पोस्टरों में बीजेपी के दिग्गज नेता और कानपुर से सांसद मुरली मनोहर जोशी की तस्वीर गायब है। पोस्टरों में पीएम मोदी, अमित शाह, पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी की तस्वीर लगी हुई है।

गैरजरूरी जनसुविधा केन्द्रों को बंद करेगा एलडीए

जनसुविधा केन्द्रों के नाम पर कामचोरी और फिजूलखर्ची बंद करने की कवायद
सचिव ने दिए निर्देश, दो दिन में सौंपेंजनसुविधा केंद्रों के उपयोगिता की रिपोर्ट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विकास प्राधिकरण अपने अधीन संचालित जनसुविधा केन्द्रों की उपयोगिता पर विचार करने लगा है। अब ऐसे जनसुविधा केन्द्रों को बंद किया जाएगा, जिनकी उपयोगिता नहीं है। ऐसे में जन सुविधा केन्द्रों पर तैनात सैंकड़ों कर्मचारियों को वापस प्राधिकरण के अन्य कामों में लगाया जाएगा।
बीते कुछ साल पूर्व लखनऊ विकास प्राधिकरण के विभिन्न जोनों में जन सुविधा केन्द्र्रों की स्थापना हुई थी। इन जनसुविधा केन्द्रों को इस उद्देश्य से खोला गया था कि लोगों को मुख्यालय के चक्कर न लगाने पड़े और जनता को सुविधा भी मिल सके, लेकिन समय के साथ-साथ यह व्यवस्था चौपट हो चुकी है। प्राधिकरण के सचिव जयशंकर दुबे के पास जनसुविधा केन्द्रों के संबंध में शिकायत पहुंची है कि जनसुविधा केन्द्रों का लाभ जनता को नहीं मिल पा रहा है। यही नहीं जानकारी यह मिली है कि केन्द्रों पर कर्मचारी बैठे रहते हैं उनके पास कोई काम नहीं है। मामले की जानकार मिलने पर श्री दुबे ने सभी अधिशासी अभियंताओं को दो दिन के भीतर जनसुविधा केन्द्रों का निरीक्षण कर रिपोर्ट सौंपने को कहा है। माना जा रहा है यदि इन केन्द्रों को बंद किया जाएगा तो प्राधिकरण के राजस्व की बचत होगी और कर्मचारियों के कामचोरी पर भी लगाम लगेगी। गौतरलब है कि प्राधिकरण के जनसुविधा केन्द्रों पर सैकड़ों की संख्या में कर्मचारी तैनात है जिनके पास कोई काम नही है।

जानकारी मिली है कि जनसुविधा केन्द्रों पर कर्मचारियों के पास कोई काम नहीं रहता। इसलिए जन सुविधा केन्द्रों की उपयोगिता का सर्वे कराया जाएगा। गैर जरूरी जन सुविधा को बंद करके वहां तैनात कर्मचारियों को अन्य काम में लगाया जाएगा।
जयशंकर दुबे, सचिव,एलडीए

बचपन में ही डालें हाथों के स्वच्छता की आदत: मालिनी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आईटीसी के हाईजीन ब्रांड सैवलॉन की तरफ से यूपी में सैवलॉन स्वस्थ इंडिया मिशन चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में आज एपीएस एकेडमी लखनऊ में विभिन्न रोचक और शैक्षिक गतिविधियों के माध्यम से बच्चों को हाथ धोने के प्रति जागरूक किया गया। साथ ही व्यावहारिक बदलावों के बारे में जानकारी दी गई। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पद्मश्री मालिनी अवस्थी ने बच्चों में बचपन से ही हाथों की स्वच्छता की आदत डालने की सलाह दी।
जल्दी उठें, व्यायाम करें व फास्ट फूड छोड़ें तो बच सकते हैं अर्थराइटिस से: महेंद्र सिंह

अर्थराइटिस डे पर राजधानी के लोगों ने लगाई दौड़

फास्ट फूड से दूर रहने और जीवन शैली में सुधार की ली शपथ

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अपने खान-पान और नियमित जीवनशैली में सुधार पर अर्थराइटिस की बीमारी से बचा जा सकता है। यदि फास्ट फूड की आदत छोडक़र घर का खाना खाएं और सुबह जल्दी उठें और नियमित व्यायाम करें। साथ ही अपनी पुरानी चीजों से जुड़े रहें तो बीमारी से बचा जा सकता है। यह विचार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ. महेंद्र कुमार सिंह ने हेल्थ सिटी अस्पताल की तरफ से आयोजित दौड़ का उद्घाटन करने के दौरान दी। उन्होंने कहा कि पहले के जमाने में लोग जल्दी उठते और घर का खाना खाते थे। मंत्रों का उच्चारण करते थे जिससे दिमाग तरोताजा रहता था और लोगों को बीमारियां भी कम होती थीं।
अर्थराइटिस डे पर आयोजित साइकिलोथॉन, योग एवं वाक फॉर अर्थराइटिस कार्यक्रम के दौरान साइकिल रैली को जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। यह रैली 12 किलोमीटर तक चली। वहीं 250 लोगों ने दौड़ में हिस्सा लिया। दौड़ हेल्थ सीटी अस्पताल से शुरू होकर मनोज पाण्डे चौराहा होते हुए मछली पार्क पहुंचकर समाप्त हो गई। खास बात यह रही कि दौड़ में राज्य मंत्री डॉ. महेंद्र कुमार सिंह, मुख्यचिकित्सा अधिकारी जीएस वाजपेई और डीएम कौशल राज शर्मा ने भी हिस्सा लिया। वहीं रैली में शामिल अर्थराइटिस फाउंडेशन ऑफ लखनऊ के उपाध्यक्ष डॉ. संदीप ने बताया कि जीवनशैली में बदलाव की वजह से अब युवा भी अर्थराइटिस की चपेट में आ रहा है। आंकड़ों के अनुसार 10 में से 8 व्यक्ति अर्थराइटिस से परेशान रहता है। इस बीमारी की वजह वजन बढऩा, बिजी लाइफ स्टाइल, शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों की कमी होना है।

राहुल गांधी का महिला टॉयलेट में घुसने का फोटो वायरल

लखनऊ। राहुल गांधी का गुजरात दौरा जारी है और वो अलग-अलग जगहों पर सभाएं करते हुए भाजपा को निशाना बनाने में व्यस्त हैं। इसी बीच उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वे एक महिला टॉयलेट में घुसे नजर आ रहे हैं। राहुल के साथ उनके सुरक्षाकर्मी भी मौजूद हैं। यह तस्वीर छोटा उदयपुर की बताई जा रही है। वायरल फोटो के बारे में कहा जा रहा है कि राहुल गांधी सभा के बाद जब टॉयलेट गए तो वो पुरुषों के बजाय महिलाओं के टॉयलेट में चले गये। उस टॉयलेट के बाहर कोई साइन बोर्ड नहीं था लेकिन गुजराती में एक पर्चा चिपका हुआ था जिस पर लिखा था महिलाओं के लिए शौचालय। राहुल ने इस पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया और अंदर चले गए। राहुल के अंदर जाते ही उनके सुरक्षा गार्ड भी टॉयलेट के बाहर तैनात हो गए लेकिन बाहर निकलते ही राहुल मीडिया की नजरों में आ गए।

बलिया में बवाल: दो गुटों में झड़प के बाद बढ़ा तनाव

लखनऊ। बलिया में एक साइकिल और बाइक की टक्कर के बाद बुधवार को दो गुटों के बीच बवाल बढ़ गया था। रतसड़ बाजार में दो गुटों के बीच हुई झड़प के बाद हिंसा भडक़ गई थी। इसलिए आज वहां धारा 144 धारा लागू कर दी गई है। वहीं इस मामले में 20 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बवाल के बाद आज बाजार और दुकानें बंद हैं। इस क्षेत्र में स्थिति अभी भी तनावपूर्ण है। बलिया में गड़वारा थाना क्षेत्र के रतसर कस्बे में बुधवार को हिंसा भडक़ गयी थी। एक दिन पहले हुई मारपीट की घटना पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई नहीं की और भीड़ उग्र हो गई। दर्जनों दुकानों में लूटपाट, तोडफ़ोड़ करने के साथ ही चार दुकानों में आग लगा दी गई। दोनों पक्षों की ओर से जमकर ईट-पत्थर भी चले। पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया है। एसपी ने लापरवाही के आरोप में रतसर के चौकी प्रभारी सुरेंद्रनाथ सिंह को सस्पेंड कर दिया है। गौरतलब है कि कस्बा निवासी लक्ष्मण राजभर के बेटे अरविंद और नन्हें खां के बेटे रानू की बाइक से साइकिल से टक्कर हुई थी। इसमें अरविंद को चोट लगी थी लेकिन वहां मौजूद लोगों ने समझा-बुझाकर दोनों को शांत करा दिया। इस घटना के बाद अगले दिन दोपहर में कुछ लोगों ने अरविंद को बुरी तरह पीट दिया। घटना की सूचना रतसर चौकी को देने के साथ ही घरवाले अरविंद को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। इलाज कराकर अस्पताल से लौटते समय अरविंद पक्ष के लोगों ने गांधी आश्रम चौराहे पर जाम लगा दिया और उग्र भीड़ ने लूटपाट और आगजनी की घटना को अंजाम दिया था। फिलहाल अभी भी क्षेत्र में स्थिति तनावपूर्ण है।

औरा 2017 फेस्ट

आईटी कालेज में तीन दिन तक चलने वाले औरा 2017 फेस्ट के पहले दिन स्टूडेंट्स ने शानदार प्रस्तुतियां दीं। इस फेस्ट में करीब 1500 स्टूडेंट्स विभिन्न प्रतियोगिताओं में पार्टिसिपेट कर रहे हैं। इस दौरान कालेज के प्रिंसिपल और कालेज की एलुमुनाई फैकल्टी के लोग भी मौजूद रहे। 

 

Pin It