डीजीपी सुलखान सिंह को मिला तीन महीने का सेवा विस्तार

  • प्रदेश में दूसरी बार ऐसा हुआ कि डीजीपी को रैतिक परेड में शामिल होने के बाद मिला सेवा विस्तार

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) सुलखान सिंह को तीन महीने का सेवा विस्तार दे दिया गया है। नई दिल्ली में सुलखान सिंह के सेवा विस्तार से जुड़े प्रस्ताव पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मुहर लगा दी है। वर्ष 1980 बैच के आईपीएस अधिकारी सुलखान सिंह का शनिवार को कार्यकाल पूरा हो रहा था। हालांकि शुक्रवार को पुलिस लाइन में उनकी विदाई के लिए रैतिक परेड का आयोजन हुआ, जिसमें सुलखान सिंह अपनी पत्नी सुमन सिंह के साथ शामिल हुए।  उत्तर प्रदेश पुलिस में यह दूसरा मौका है, जब किसी डीजीपी को रैतिक परेड में शामिल होने के बाद सेवा विस्तार मिला। इसके पहले वर्ष 2015 में डीजीपी एके जैन को भी रैतिक परेड में शामिल होने के बाद सेवा विस्तार मिला था, जबकि वर्ष 1983 में डीजीपी श्रीश चंद्र दीक्षित भी सेवा विस्तार पाए थे। डीओपीटी के उपसचिव राजेंद्र कुमार ने शुक्रवार शाम तीन माह के सेवा विस्तार का आदेश जारी कर दिया है। बताया गया कि उप्र शासन ने 27 सितंबर को डीजीपी सुलखान सिंह के सेवा विस्तार का प्रस्ताव गृह मंत्रालय को भेजा था, जहां से प्रस्ताव डीओपीटी गया था और फिर उसे प्रधानमंत्री कार्यालय भेजा गया था। प्रधानमंत्री कार्यालय से संस्तुति के बाद डीजीपी के सेवा विस्तार को हरी झंडी मिल गई। निकाय चुनाव और त्योहारों पर सुरक्षा-व्यवस्था के लिहाज से डीजीपी को सेवा विस्तार मिलना तय माना जा रहा था। ध्यान रहे, गत दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अपराधियों के खिलाफ की गई सख्त कार्रवाई के चलते डीजीपी सुलखान सिंह की प्रशंसा भी की थी। 

Pin It