शराब अधिनियम में बदलाव के फैसले पर कांगे्रस ने योगी सरकार पर साधा निशाना

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। प्रदेश सरकार ने मंत्रिपरिषद की बैठक में आबकारी अधिनियम 1910 में अध्यादेश के माध्यम से संशोधन करते हुए शराब की अवैध बिक्री, तस्करी एवं निष्कर्षण पर नियन्त्रण लगाने से संबंधित कड़ा फैसला लिया है। सरकार के इस फैसले पर कांग्रेस ने तंज कसा है।
कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता संजय वाजपेयी ने बताया कि राजस्व की कमी को दूर करने के लिए कठोर दण्ड देने का प्रावधान करने वाली सरकार दूसरी उन चीजों पर कार्रवाई नहीं कर रही है जिनमें मिलावट का जहर धड़ल्ले से घोला जा रहा है। इतना ही नहीं नागरिकों की जिन्दगी राजस्व के मुकाबले कम मानी जा रही है। शायद इसीलिए योगी सरकार ने शराब बन्दी की मांग करने वाली महिलाओं पर प्रदेश भर में लाठीचार्ज कराया है। जबकि हम सब कल्याणकारी राज्य में रह रहे हैं। जहां आम आदमियों की जिन्दगी ज्यादा कीमती होती है।

Pin It