साथी की मौत पर केजीएमयू के कर्मचारी आक्रोशित

डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग आंदोलन की चेतावनी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कर्मचारियों ने अपने साथी के इलाज में लापरवाही बरतने के कारण हुई मौत को लेकर डॉक्टरों के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी है। कर्मचारियों का आरोप है कि डेंटल विभाग में तैनाती की जानकारी देने के बावजूद मेडिसिन विभाग के डॉक्टर कर्मचारी का इलाज न करके बलरामपुर रेफर कर दिया। परिजन जब तक कर्मचारी को लेकर बलरामपुर अस्पताल पहुंचते तब तक उसकी मौत हो गयी। इसकी जानकारी मिलने पर कर्मचारी आक्रोशित हो गये। उनका कहना है कि केजीएमयू के डॉक्टर अपने संस्थान के कर्मचारियों के इलाज में लापरवाही बरतते है तो अन्य मरीजों के साथ क्या व्यवहार करते होंगे।
कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि अगर डॉक्टर पर कार्रवाई नही हुई तो आंदोलन किया जाएगा। फिलहाल केजीएमयू प्रशासन ने जांच का जिम्मा ट्रामा के मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष को दे दी है। डेंटल विभाग में चौकीदार पद पर तैनात शैलेष को केजीएमयू के ट्रामा सेंटर लाया गया था। उसे बाद में इलाज के लिए बलरामपुर रेफर कर दिया गया था, रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

Pin It