थम नहीं रहे रेल हादसे, सीतापुर में पटरी से उतरी ट्रेन

चौबीस घंटे में एक ही स्थान पर दो ट्रेने हुई डिरेल
लगातार ट्रेन हादसों से यात्रियों में दहशत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। देश में रेल हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। बुढ़वल-बालामऊ पैसेंजर ट्रेन के इंजन बेपटरी होने के महज कुछ ही घंटे के अंदर सीतापुर में आज सुबह मालगाड़ी का इंजन पटरी से उतर गया। हादसा उसी जगह हुआ जहां पैसेंजर ट्रेन का इंजन बेपटरी हुआ था। जिस तरह से आए दिन ट्रेनें डिरेल हो रही है उससे यात्रियों में दशहत बढ़ती जा रही है। लोग ट्रेन से यात्रा करने में डरने लगे हैं। यह रेलवे के लिए भी चिंता का विषय है।
मालूम हो कि 24 घंटे के भीतर एक ही जगह पर दो ट्रेन डिरेल हो गई। आज मालगाड़ी तो कल पैसेंजर ट्रेन डिरेल हुई। पैसेंजर ट्रेन सीतापुर कैंट स्टेशन से चलकर कुछ ही दूर पर पहुंची थी तभी पुलिस लाइन रेलवे क्रासिंग पार करते समय ट्रेन के इंजन के दो पहिये पटरी से उतर गये। ट्रेन के पटरी से उतरते ही उसमें सवार यात्रियों में हडक़ंप मच गया। हादसे में सभी यात्री सुरक्षित हैं। ट्रेन डिरेल होने की सूचना मिलते ही रेलवे के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। रेलवे क्रासिंग पर हादसा होने की वजह से लखीमपुर-सीतापुर सडक़ यातायात बाधित हो गया और रेलवे क्रासिंग पर लम्बा जाम लग गया। रेलवे और पुलिस के अधिकारियों ने मौके पर स्थिति को नियंत्रण में लिया और यातायात फिर से बहाल किया गया। रेल अधिकारियों के मुताबिक ट्रैक की क्लिप और तकनीकी मरम्मत करने के बाद रूट पर फिर से संचालन शुरू कराया गया। आज की घटना के बाद साफ है अधिकारियों ने उस हादसे से कोई सबक नहीं लिया जिस वजह से आज फिर ठीक उसी जगह यह हादसा हुआ। बीते दिनों खतौली में हुए बड़े रेल हादसे के बाद भी ट्रेनों का पटरियों से उतरना जारी है। मुजफ्फरनगर के खतौती में ट्रेन हादसे में 23 लोगों की जान चली गए थी। औरेया में भी कैफियत एक्सप्रेस भी कुछ दिन पहले डिरेल हो गई थी।

बांके बिहारी मंदिर पहुंचे सीएम योगी, मथुरा को दी सौगात

सीएम योगी ने मथुरा को दी पांच करोड़ के योजनाओं की सौगात
बीजेपी मना रही है पं. दीनदयाल उपाध्याय की जन्मशताब्दी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

मथुरा । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज मथुरा जिले के दौरे पर हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी सो सैया गांव के हेलीपेड पर उतरेे, जहां से सीएम वृन्दावन में बांके बिहारी की पूजा-अर्चना के लिए मंदिर पहुंचे। पूजा-अर्चना के बाद सीएम नगला चंद्रभान गांव के लिए रवाना हो गए।
सीएम योगी आदित्यनाथ नगला चंद्रभान में पं. दीनदयाल उपाध्याय के जन्मशताब्दी कार्यक्रम में शामिल हुए। सीएम ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। मालूम हो कि पं. दीनदयाल उपाध्याय का जन्म इसी गांव में हुआ था। इस अवसर पर सीएम ने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय हमारे प्रेरणास्रोत है। समाज की भलाई के लिए उन्होंने अपना पूरा जीवन लगा दिया। उनके विराट व्यक्तित्व से हम सभी को प्रेरणा लेनी चाहिए। इसके अलावा सीएम योगी ने पर्यटन विभाग की परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया। सीएम
के आगमन को लेकर जिला प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये हैं। मालूम हो कि भारतीय जनता पार्टी इस साल पं. दीनदयाल उपाध्याय की जन्मशताब्दी मना रही है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मथुरा दौरे के तहत कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे।

यूपी एटीएस ने लखीमपुर से बब्बर खालसा के दो संदिग्ध आतंकियों को किया गिरफ्तार

नाभा जेल से फरार थे अभियुक्त, कोर्ट ने जारी किया था वारंट
लखीमपुर खीरी पुलिस की मदद से एटीएस ने अभियुक्तों को दबोचा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश एटीएस की टीम ने लखीमपुर खीरी पुलिस की मदद से आज खालिस्तान आतंकवादी संगठन बब्बर खालसा के दो संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है। दोनों को लखीमपुर खीरी के मैलानी क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। दोनों पंजाब पुलिस के वांछित अभियुक्त हैं।
ये दोनों अभियुक्त नवम्बर 2016 ने पंजाब के पटियाला स्थित नाभा जेल से फरार हुए थे। दोनों अभियुक्तों पर खालिस्तान आतंकवादी संगठन बब्बर खालसा को असलहा सप्लाई करने एवं सहयोग देने का आरोप है। नाभा के प्रकरण में पंजाब पुलिस को इन दोनों अभियुक्तों की तलाश थी। अभियुक्त जितेन्द्र सिंह टोनी पुत्र बलदेव सिंह को लखीमपुर खीरी के मैलानी क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। टोनी पर मु0अ0सं0-142/06 के अंतर्गत आईपीसी की धारा 307/ 392/ 223/ 224/ 120ड्ढ /148/ 149/201/ 419/170 /171 में मुकदमा दर्ज है। इसके साथ ही अभियुक्त सतनाम सिंह पुत्र अवतार सिंह निवासी सिकंदरपुर लखीमपुर को भी एटीएस ने गिरफ्तार किया है। सतनाम सिंह को मुकंदपुर जिला नवाशहर पंजाब के प्रकरण में गिरफ्तार किया गया है। गौरतलब हो कि एटीएस द्वारा 16 अगस्त 2017 को बब्बर खालसा के अभियुक्त बलवंत सिंह को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया था। उस दौरान बलवंत सिंह से की गई पूछताछ में ही अभियुक्त सतनाम सिंह का नाम सामने आया था। दोनों अभियुक्तों के विरुद्ध न्यायलय से वारंट जारी था। यूपी एटीएस के पुलिस उपाधीक्षक डीके पूरी तथा हृदेश कठेरिया के निर्देशन में टीम द्वारा उपरोक्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गई है।

Pin It