आईएएस के भाई की दबंगई, शाहनजफ रोड पर ही सजा दिया कार बाजार

आधी सडक़ तक फैले टोयोटा शो-रूम के कारण यातायात बाधित
अभियान चलाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे यातायात और नगर निगम के अफसर
घंटों लग रहे जाम के कारण स्कूली बच्चों और राहगीरों को हो रही समस्या

विनय शंकर अवस्थी
लखनऊ। योगी सरकार ने भले ही अफसरों की गाडिय़ों से नीली बत्ती हटा कर जनता में समानता का संदेश दिया हो लेकिन असलियत इससे एकदम अलग है। शहर में नौकरशाहों और उनके रिश्तेदारों का रसूख सिर चढक़र बोल रहा है। इस रसूख के आगे आम जनता की कोई बिसात नहीं। ऐसा ही एक नजारा शाहनजफ रोड पर दिखाई दे रहा है, जहां एक कार शो-रूम के मालिक ने अपनी दबंगई के बल पर आधी सडक़ तक गाडिय़ां खड़ी कर रखी हैं। लिहाजा सडक़ पर यातायात बाधित हो रहा है। जनता को काफी समस्या हो रही है। चूंकि टोयोटा शो रूम का मालिक एक आईएएस का भाई है। इसलिए नगर निगम और यातायात विभाग के अफसर भी उसके खिलाफ कार्रवाई करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं।
हजरतगंज स्थित शाहनजफ रोड पर लंबे समय से यातायात व्यवस्था ध्वस्त है। यातायात विभाग ने इस मार्ग को नो-पार्किंग जोन घोषित कर रखा है। साथ ही यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए विभाग ने कई डायवर्जन दे रखे हैं। यहीं पर दो व चार पहिया वाहनों के कई शो-रूम संचालित हैं। इन्हीं में से एक टोयोटा शो रूम आईएएस के भाई का है, जो बिक्री के लिए वाहनों को फुटपाथ से लेकर सडक़ तक खड़ा करता है, इस वजह से जाम की स्थिति बनी रहती है। बताते हैं कि आईएएस अधिकारी के भाई का शोरूम होने की वजह से सडक़ पर खड़ी गाडिय़ों को यातायात विभाग भी नहीं उठाता है। हालांकि यातायात विभाग और नगर निगम की ओर से कई बार शाहनजफ रोड की यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कवायदें की गई हैं, लेकिन इस रसूखदार टोयोटा शो-रूम के मालिक के आगे बड़े-बड़े अफसरों भी बौने साबित हो रहे हैं। सडक़ पर अतिक्रमण का आलम यह है कि यहां स्कूल की छुट्टी के समय घंटों जाम लग जाता है। यह स्थिति सडक़ों पर खड़ी बेतरकीब गाडिय़ों के कारण पैदा हो रही है। अभिभावकों का कहना है कि सडक़ के दोनों ओर गाडिय़ों का जमावड़ा लग जाता है, जिसके चलते घंटों जाम से जूझना पड़ता है। इससे बच्चे परेशान हो जाते हैं। गौरतलब है कि इस सडक़ से चंद कदमों की दूरी पर एसएसपी कार्यालय है। जहां से पूरे शहर की कानून व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के दावे किये जाते हैं। ऐसे में जब एसएसपी कार्यालय के पास गंभीर जाम की समस्या है तो अन्य क्षेत्रों में जाम की स्थिति के बारे में अंदाजा लगाया जा सकता है।

यहां नहीं चलता अभियान
यातायात विभाग की ओर से हजरतगंज चौराहा और उसके आस-पास नो-पार्किंग में खड़े वाहनों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जाता है। अगर किसी ने सडक़ पर गाड़ी खड़ी की तो यातायात पुलिस कर्मियों द्वारा तत्काल कार्रवाई की जाती है। गाडिय़ों को जब्त कर लिया जाता है और 1100 रुपये का जुर्माना भरने के बाद ही छोड़ा जाता है, लेकिन शाहनजफ रोड पर ऐसा अभियान चलाने की हिम्मत यातायात विभाग नहीं जुटा पा रहा। अब तक दोनों विभागों की तरफ से केवल शो-रूम मालिकों को नोटिस दी जाती रही है।

सडक़ पर अतिक्रमण कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। शाहनजफ रोड पर अतिक्रमण और यातायात व्यवस्था ठीक करने के लिए यातायात विभाग और नगर निगम की ओर से संयुक्त अभियान चलाया जाएगा।
उदयराज सिंह, नगर आयुक्त

सडक़ और फुटपाथ लोगों के चलने के लिए होते है। गाडिय़ां सडक़ पर खड़ी करने के लिए नहीं होती। यदि सडक़ पर वाहन खड़े मिले तो यातायात पुलिस कार्रवाई करेगी। शाहनजफ रोड पर जाम की स्थिति सुधारने के लिए डीएम साहब के नेतृत्व में बैठक हो चुकी है।
रवि शंकर निम, एसपी ट्रैफिक

साध्वी निरंजन ज्योति की कार दुर्घटनाग्रस्त

लखनऊ। केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति की कार आज सुबह कानपुर जिले में दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस हादसे में केंद्रीय मंत्री बाल-बाल बच गईं। बताया जा रहा है कि नशे में धुत एक होंडा सिटी कार के चालक ने उनके काफिले में घुसकर उनकी कार को टक्कर मार दी। इससे अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में इसकी सूचना पुलिस को दी गई। वहीं सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है। वहीं केंद्रीय मंत्री को दूसरी कार में बैठाकर रवाना किया गया है। बताया जा रहा है कि केंद्रीय मंत्री राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने जा रही थीं।

किसानों ने एलडीए का किया घेराव

लखनऊ। मुआवजा संबंधी मांगों को लेकर आज भारतीय किसान यूनियन (अवध) के बैनर तले किसानों ने एलडीए का घेराव किया। अधिकारियों ने किसानों से वार्ता का आश्वासन दिया है। यूनियन के अध्यक्ष राम सिंह यादव ने बताया कि किसानों को कानपुर रोड योजना के अन्तर्गत बढ़ी दर पर मुआवजा मिलना था लेकिन एलडीए द्वारा केवल एक व्यक्ति को 14 रुपये वर्ग फुट की दर से मुआवजा दिया गया, लेकिन अन्य किसानों को मुआवजा नहीं दिया गया। इसको लेकर संघ की ओर से पिछले पांच साल से धरना-प्रदर्शन किया जा रहा है लेकिन हमेशा आश्वासन देकर पल्ला झाड़ लिया जाता है। मुआवजे के लिए संघ की ओर से लगातार अधिकारियों से निवेदन किया जा रहा है। श्री सिंह ने कहा यदि वार्ता सफल नही हुई तो 18 सितंबर को बड़े स्तर पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

बौखलाए आसाराम ने कहा मैं बाबा नहीं ‘गधा’ हूं

नई दिल्ली। नाबालिग का यौन उत्पीडऩ करने के मामले में पिछले चार साल से जोधपुर जेल में बंद आसाराम ने झल्लाहट में एक बार फिर विवादित बयान दिया है। उन्होंने खुद को फर्जी बाबा घोषित किए जाने के सवाल पर झल्लाहट में कहा कि ‘मैं ना तो संत हूं और ना ही कथावाचक मैं तो गधा हूं,गधों की श्रेणी में आता हूं।’आसाराम नियमित सुनवाई के लिए जेल से कोर्ट पहुंचे तो मीडियाकर्मियों ने उन्हें घेर लिया और फर्जी बाबाओं की सूची में उनका नाम शामिल होने को लेकर सवाल पूछने लगे, इस पर झल्लाए आसाराम ने कहा मैं ना तो संत हूं और ना ही कथावाचक हूं, मैं तो गधों की श्रेणी में आता हूं,गधा हूं। इसके बाद पुलिस की गाड़ी में बैठकर जेल चले गये। उल्लेखनीय है कि अखाड़ा परिषद ने पिछले दिनों बैठक कर आसाराम,राम-रहीम सहित कई लोगों को संत नहीं मानते हुए ऐसे लोगों की सूची जारी की थी।

अब ड्राइविंग लाइसेंस को करना होगा आधार से लिंक

नई दिल्ली। मोबाइल और पैन कार्ड को आधार से लिंक करने को अनिवार्य बनाने के बाद अब केंद्र सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस को भी इससे जोडऩे की तैयारी शुरू कर दी है। सरकार आधार कार्ड को सभी जरूरी सेवाओं के लिए अनिवार्य करने में जुटी हुई है। सूचना प्रसारण मंत्री रवि शंकर ने बताया कि ड्राइविंग लाइसेंस को भी आधार से लिंक करने की योजना बना रहे हैं। इस संबंध में उन्होंने परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से बात की है। उन्होंने बताया कि सरकार ने मनी लॉन्ड्रिंग रोकने के लिए पैन को आधार कार्ड से लिंक किया है अगर ड्राइविंग लाइसेंस को भी आधार से जोड़ दिया जाएगा तो इससे डुप्लीकेट लाइसेंस की संख्या पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि आधार डिजिटल आइडेंटिटी है। डिजिटल गवर्नेंस अच्छा होता है।

दारोगा ने महिला से रेप कर बनाया अश्लील वीडियो

पीडि़ता की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज, जांच शुरू
एसएसपी ने आरोपी दारोगा को किया निलंबित

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। महिलाओं की आबरू से लगातार खिलवाड़ कर रही यूपी पुलिस ने एक बार फिर पूरे महकमे को शर्मसार कर दिया है। ताजा मामला बाराबंकी जिले का है। यहां एक दारोगा ने पहले पीडि़त महिला से नजदीकियां बढ़ाईं उसके बाद रेप किया। इस मामले में महिला की तरफ से थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। वहीं एसएसपी ने आरोपी दारोगा को निलंबित कर दिया है।
पीडि़त महिला ने आरोप लगाया है कि आरोपी दारोगा ने उसका रेप करने के दौरान अश्लील वीडियो भी बनाया था। जिससे उसको लगातार ब्लैकमेल करता था। जब उसने दारोगा की हरकत का विरोध किया तो वह अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देने लगा। पीडि़ता ने इसकी शिकायत पुलिस कप्तान से की है। पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी दारोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

सांसद बृजभूषण सिंह से मिले शिक्षामित्र

लखनऊ। यूपी के शिक्षामित्रों का क्रमिक आंदोलन जारी है। शिक्षामित्रों ने स्कूलों में समायोजन रद्द किए जाने के बाद यूपी सरकार की तरफ से दिए जा रहे मानदेय और अपनी विभिन्न मांगों को लेकर दिल्ली में सांसद बृजभूषण सिंह से मुलाकात की। इस दौरान छह शिक्षामित्रों का डेलीगेशन सांसद से मिला, जिसमें शिक्षामित्रों ने समान कार्य के लिए समान वेतन की मांग की। शिक्षामित्रों का एक प्रतिनिधिमंडल आज ही संगठन अध्यक्ष जितेंद्र शाही के नेतृत्व में भाजपा सांसद जगदम्बिका पाल से भी मिलेगा। उनसे भी शिक्षामित्र न्याय की गुहार लगायेंगे।

Pin It