गौरी लंकेश की हत्या के 40 घंटे बाद भी पुलिस खाली हाथ

केंद्र सरकार ने कर्नाटक सरकार से मांगी रिपोर्ट
सिद्धारमैया सरकार ने घटना की जांच का जिम्मा एसआईटी को सौंपा
वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मार कर हत्या किए जाने का मामला

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के 40 घंटे बाद भी पुलिस हत्यारों का पता नहीं लगा सकी है। पुलिस गौरी लंकेश के घर और आसपास की इमारतों में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है ताकि आरोपियों का कोई सुराग मिल सके । इससे पूर्व कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार ने मामले की एसआईटी जांच कराने का आदेश जारी कर दिया है। यह भी कहा है कि जरूरत पडऩे पर मामला सीबीआई को सौंपा जा सकता है। वहीं केंद्र सरकार ने गौरी लंकेश की हत्या के मामले में कर्नाटक सरकार से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।
पुलिस का मानना है कि पेशेवर हत्यारों की मदद से इस वारदात को अंजाम दिया गया है। गौरी लंकेश को उनके बेंगलुरु के घर में गोली मारी गई थी। अपराधियों ने सात गोलियां चलाईं, जिनमें गौरी लंकेश को तीन गोली लगी और मौके पर ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

बिना सबूत उंगली न उठाएं: भाजपा
पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या को लेकर राजनीति तेज हो गई है। जहां राहुल गांधी और सीपीएम ने इसके लिए बीजेपी और संघ परिवार को जिम्मेदार ठहराया है, वहीं बीजेपी ने इसके लिए राज्य सरकार पर निशाना साधा है। दरअसल अपने राजनीतिक विचारों और अपनी बेलाग टिप्पणियों के लिए मशहूर गौरी लंकेश की जिस तरह हत्या हुई, उससे सबसे पहले हिंदूवादी विचारधारा निशाने पर आई। कांग्रेस ने फौरन याद दिलाया कि पिछले दिनों जिस तरह की सोच को बढ़ावा दिया गया है, ये हत्या उसी का नतीजा है और ये विचारधारा देश के भी खिलाफ है और लोकतंत्र के भी। उधर, आरएसएस ने फौरन हत्या की निंदा की और कार्रवाई की मांग की है। भाजपा ने कहा, बिना सबूत कोई उंगली न उठाएं। यह भी कहा कि कानून-व्यवस्था राज्य का मसला है केंद्र का नहीं और फिलहाल तो कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार है। वहीं वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई।

मांगों को लेकर कर्मचारियों ने आवास विकास परिषद मुख्यालय का किया घेराव

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लिपिकीय ढांचे में परिवर्तन न किये जाने की मांग को लेकर उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद के मिनिस्टीरियल स्टाफ एसोसिएशन के कार्यकर्ताओं ने परिषद मुख्यालय का आज सुबह घेराव किया। कर्मचारियो ने काम काज ठप कर दिया।
एसोसिएशन के महासचिव राजेश कुमार दुबे ने बताया कि परिषद प्रशासन मनमानी पर उतारू है। वह जबरन लिपिकीय ढांचे में परिवर्तन कर पुरानी व्यवस्था लागू करने की तैयारी कर रहा है। उन्होंने कहा कि लिपिकीय ढांचे में किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसके लिए संघ का विरोध जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा होता है तो परिषद पूर्व में जारी शासनादेश से हटकर जो भी लाभ कर्मचारियों व अधिकारियों को दिए जा रहे हैं उसे निरस्त किया जाये। धरने पर बैठे कर्मचारियों का कहना है कि अगर विरोध प्रदर्शन के बाद भी कार्रवाई नहीं रूकी तो कल प्रदेशभर के आवास विकास परिषद के कर्मचारी काम बंद कर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जायेंगे। संघ के पदाधिकारियों ने इस मामले के निस्तारण के लिए सचिव महेंद्र कुमार से वार्ता की और उनको ज्ञापन सौंपा। आज किए गए धरना प्रदर्शन में एसोसिएशन के अध्यक्ष गोविन्द बल्लभ, उपाध्यक्ष राजमणि मिश्रा व ऋषि तिवारी, महासचिव दिनेश सिंह, समन्वय प्रमोद कुमार सिंह समेत सैकड़ों कर्मचारी मौजूद रहे।

वरिष्ठï पत्रकार अरविंद नरायण सिंह का निधन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। वरिष्ठï पत्रकार अरविंद नरायण सिंह का आज लखनऊ स्थिति उनके इंदिरा नगर आवास पर निधन हो गया है। उनके असमय निधन पर मीडिया जगत में शोक की लहर है। वहीं उनके आवास पर उनके अंतिम दर्शन करने वालों का तांता लगा है। आज शाम तक उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।
अरविंद नरायण सिंह अरसे से सक्रिय पत्रकारिता से जुड़ रहे। उन्होंने विभिन्न मीडिया संस्थानों नवभारत टाइम्स, राष्टï्रीय सहारा और हिंदुस्तान समाचार पत्र में काफी समय तक अपनी सेवाएं दीं। वह अपनी तेज तर्रार लेखनी के लिए जाने जाते थे। उनके निधन पर परिजन और मीडिया जगत से जुड़े लोग काफी दुखी हैं।

सैनिकों का कल्याण प्राथमिकता: निर्मला

नई दिल्ली। निर्मला सीतारमण ने आज देश की पहली पूर्णकालिक महिला रक्षामंत्री का कार्यभार ग्रहण किया। उन्होंने कहा कि सुरक्षाबलों के परिवार और उनका कल्याण मेरी पहली प्राथमिकता है।
नरेंद्र मोदी कैबिनेट में रविवार को हुए फेरबदल में निर्मला सीतारमण को प्रोन्नत कर रक्षा मंत्री बनाया। हालांकि इसी दिन अरुण जेटली को जापान रवाना होना था, जिसकी वजह से वह रक्षा मंत्री का कार्यभार नहीं संभाल पाईं थीं। मनोहर पर्रिकर के रक्षा मंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली को ही इस मंत्रालय की अतिरिक्तजिम्मेदारी दी गई थी। निर्मला ने वित्तमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री अरूण जेटली की उपस्थिति में कार्यभार ग्रहण किया। जापान जाने से पहले जेटली ने कहा था, मैं आज रात जापान यात्रा पर जा रहा हूं। सामान्यतया नए रक्षामंत्री को जाना चाहिए था, लेकिन रविवार होने की वजह से अंतिम क्षणों में ऐसा संभव नहीं हो सका। वार्ता समाप्त होते ही सीतारमण पदभार संभाल लेंगी।

अब नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र होंगे पेपर लेस

राजधानी की दो यूपीएचसी में चल रहा ट्रायल
टेलीमेडिसिन की सुविधा से भी लैस होंगे केंद्र
ऑनलाइन पंजीकरण और रिपोर्ट की सुविधा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अब प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भी पेपर लेस होंगे। पहली बार प्रदेश की राजधानी के दो नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को ई-यूपीएचसी में तब्दील किया जाएगा। फिलहाल यहां ट्रायल चल रहा है। सब कुछ सही रहा तो प्रदेश के अन्य नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भी ऑनलाइन सिस्टम से जोड़े जाएंगे। जल्द ही इसका उद्घाटन किया जाएगा। यहां टेलीमेडिसिन की सुविधा भी मिल सकेगी।
लखनऊ के उजरियांव व जियामऊ नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को ई-यूपीएचसी बनाने की तैयारी जोरों पर है। यहां ट्रायल चल रहा है। दोनों पीएचसी में अंगूठा लगाकर पंंजीकरण कराया जा सकेगा। इसके अलावा जांच समेत पूरा इलाज ऑनलाइन हो सकेगा। यहां मरीज को पंजीकरण काउंटर पर सिर्फ अपना अंगूठा लगाना होगा और उसकी सारी डीटेल कम्प्यूटर स्क्रीन पर आ जायेगी।
मसलन मरीज को क्या दवा दी गयी थी और कौन-कौन सी जांचें हुई है आदि। इसके अलावा गंभीर मरीजों के संबंध में टेलीमेडिसिन द्वारा हैदराबाद व विशाखापटट्नम के विशेषज्ञों से परामर्श भी लिया जायेगा। शाम आठ बजे तक डे-केयर भर्ती की भी सुविधा यहां मिलेगी। दोनों पीएचसी का ई सिस्टम आंध्रप्रदेश की धनुष इंफोटेक कंपनी द्वारा तैयार किया गया है। इस बारे में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि एक महीने का ट्रायल शुरू किया गया है। पीएचसी में सुबह 8 से दोपहर दो बजे तक और फिर शाम को 4 से 8 बजे तक दो पॉली में ओपीडी में सेवा दी जा रही हैं। इसका औपचारिक उद्घाटन होना है। यूपीएचसी में एडवांस टेक्नोलॉजी से युक्त पैथोलॉजी स्थापित की गई है। टेलीमेडिसिन के तहत डॉक्टर हैदराबाद के टेलीमेडिसिन कॉल सेंटर में मौजूद विशेषज्ञ डॉक्ट्र्स से मरीज की बीमारी से संबंधित परामर्श लें सकेंगे।

Pin It