भ्रष्टाचरियो पर लगाम लगाने की कवायद तेज

मुख्य सचिव ने जिला स्तर पर फ्लाइंग स्क्वॉड के गठन का दिया निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। प्रदेश में भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए अब हर जिला स्तर पर फ्लाइंग स्क्वॉड बनेगा। कमिश्नर और जिलाधिकारी की अगुआई में बनने वाला यह स्क्वॉड जिले में किसी भी स्तर पर रिश्वत या भ्रष्टाचार की शिकायत पर कार्रवाई करेगा। मुख्य सचिव राजीव कुमार ने शनिवार को सभी कमिश्नरों और पुलिस उप महानिरीक्षकों को हर जिले में फ्लाइंग स्क्वॉड गठन की प्रक्रिया तेज करने के निर्देश दिए।
मुख्य सचिव ने कहा कि मंडल और जिला स्तर के जरूरी काम चिंहित कर एक सितंबर तक शासन को भेजें। ये काम मार्च, 2018 और दिसंबर, 2018 तक पूरा करने का लक्ष्य तय किया गया है। विडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्य सचिव ने मंडल और जिला स्तर पर विकास संबंधी और पुलिस विभाग के अच्छे कामों का प्रचार करने के निर्देश दिए। बैठक में पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह, अध्यक्ष, राजस्व परिषद प्रवीर कुमार, कृषि उत्पादन आयुक्त, राज प्रताप सिंह, समाज कल्याण आयुक्त चन्द्र प्रकाश, अपर मुख्य सचिव वित्त डॉ. अनूप चन्द्र पाण्डेय, अपर मुख्य सचिव, कार्यक्रम क्रियान्वयन संजीव सरन, प्रमुख सचिव, गृह अरविन्द कुमार समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

समय से काम पूरा करें अधिकारी

मुख्य सचिव ने अपनी बैठक में इस बात पर सबसे अधिक ध्यान दिया कि सरकारी योजनाओं का आम जनता को कैसे लाभ मिले और जनता की समस्याओं का निस्तारण कम समय में कैसे किया जाये। इसके लिए सभी मंडलायुक्तों और डीआईजी के साथ विस्तार से चर्चा भी की। उन्होंने किसानों की ऋण माफी योजना के लाभार्थियों को कैंप लगाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि जिले के सभी अधिकारी 9 से 11 बजे के बीच दफ्तरों में जनता की शिकायतें सुनें और समस्याओं का निस्तारण करें।

Pin It