बरसात खत्म होने के बाद ही शुरू होगा सीवरेज का काम

नगरीय क्षेत्र में सीवर लाइन बिछाने व घरों में सीवर कनेक्शन की कवायद तेज

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। नगरीय क्षेत्र में सीवर लाइन बिछाने व घरों में सीवर कनेक्शन देने का काम अब जल्द ही शुरू हो जाएगा। इसके लिए निगम प्रशासन अब बारिश खत्म होने का इंतजार कर रहा है, लेकिन शहर में सैकड़ों परिवार जल भराव की समस्या से जूझ रहे हैं। उनका पुरसाहाल कोई भी नहीं है।
नगर आयुक्त उदयराज सिंह ने बारिश को ध्यान में रखते हुए जल निगम को बारिश तक सडक़ खुदाई बंद करने को कहा था। उम्मीद जतार्ई गई है कि बारिश के कम होते ही सितंबर से काम शुरू करा दिया जाएगा। जेएनयूआरएम योजना के अंतर्गत सीवर लाइन तो डाल दी गई थी लेकिन न तो उन्हें आपस में जोड़ा गया न ही घरों का कनेक्शन किया गया। ऐसे में लोगों को सीवर लाइन का लाभ नहीं मिल पा रहा है। बारिश में जलभराव व सीवर ओवरफ्लो होने की समस्या अलग है। केन्द्र सरकार ने अमृत योजना में सीवर लाइनों को आपस में जोडऩे व घरों के कनेक्शन के लिए धनराशि मुहैया कराई है। जल निगम ने मई में काम भी शुरू कर दिया था। सालभर पहले बनी सडक़ों को खुदाई करके कुछ जगहों पर सीवर लाइनों को जोड़ दिया गया लेकिन सडक़ खुदने से लोगों को आवागमन में बड़ी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। इंदिरानगर सेक्टर-आठ में सडक़ खोदकर छोड़ दिया गया है। खोदी गई मिट्टी बारिश में सडक़ पर आ गई है। इसलिए लोग सडक़ पर फिसलकर घायल हो रहे हैं। यही स्थिति अन्य क्षेत्रों की भी है। वहीं नगर आयुक्त उदयराज सिंह ने जल निगम को पत्र लिखकर सडक़ों की खुदाई का काम बंद करने की बात कही है। यह भी कहा है कि अगले निर्देश के बाद ही सडक़ खुदाई काम शुरू किया जाए। जल निगम में गोमती प्रदूषण नियंत्रण इकाई के महाप्रबंधक डीएन यादव ने कहा कि जो सडक़ें खोदी गई हैं उनको दुरुस्त किया जा रहा है। इसके बाद काम बंद कर दिया जाएगा। बारिश बाद सीवर लाइनों को जोडऩे व घरों का कनेक्शन करने का काम शुरू किया जाएगा।

Pin It