400 पार्टियों ने कभी नहीं लड़ा चुनाव, कालेधन को कर रहीं सफेद

  • मुख्य चुनाव आयुक्त ने जताई आशंका, सियासी दलों में मचा हडक़ंप
  • देशभर में पंजीकृत हैं 1900 पार्टियां, राज्य चुनाव आयोगों से मांगा गया चंदे का विवरण

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली। मोदी सरकार के कालेधन के खिलाफ कड़े कदमों के बीच चुनाव आयोग ने बड़ा खुलासा किया है। आयोग ने कहा है कि देश में 1900 राजनीतिक दलों का पंजीकरण है लेकिन इसमें से 400 दलों ने कभी कोई चुनाव नहीं लड़ा। मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने शंका जाहिर की है कि इन पार्टियों का गठन कालेधन को सफेद करने के लिए भी किया जा सकता है। मुख्य चुनाव आयुक्त की इस आशंका के बाद से सियासी दलों में हडक़ंप मचा है। मुख्य चुनाव आयुक्त नसीद जैदी ने कहा कि चुनाव आयोग ने ऐसी पार्टियों को लिस्ट से निकालने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इससे सियासी पार्टी के तौर पर आयकर और चंदे में मिलने वाली छूट बंद की जा सकती है। गौरतलब है कि पार्टियों की सूची में आयोग हर साल कांट-छांट करती है। इन पार्टियों को दोबारा पंजीकरण करने के सवाल पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि यह प्रक्रिया काफी लंबी होती है।
मांगी गई सूची
मुख्य चुनाव आयुक्त ने यह भी कहा कि भविष्य में दोबारा रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया की जाएगी। फिलहाल इस अनियमितता को देखते हुए त्वरित उपाय के तौर पर यह कार्रवाई की जा रही है। राज्य चुनाव आयोगों से उन पार्टियों की सूची मांगी गई है जिन्होंने कभी चुनाव नहीं लड़ा है। मुख्य चुनाव आयुक्त ने ऐसी पार्टियों को मिलने वाले चंदों का विवरण भी मांगा है। इसी के साल अब हर साल पंजीकृत पार्टियों की जांच-पड़ताल की जाएगी।

Pin It