4पीएम की खबर पर लगी मुहर, यूथ विंग के नेताओं की सपा में होगी वापसी

  • सपा सुप्रीमो ने अपने आवास पर यूथ विंग के नेताओं को पहले डांटा उसके बाद पार्टी में वापस लेने का दिया संकेत

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
1लखनऊ। आखिरकार सपा में वही हो रहा है, जिसे 4पीएम ने बहुत पहले छापा था। हमने लिखा था कि सपा में वही होगा, जो सीएम अखिलेश यादव चाहेंगे। रामगोपाल यादव के बाद आज सीएम के करीबी युवा नेताओं की भी वापसी पार्टी में होने की संभावना है। सीएम के सबसे करीबी एमएलसी उदयवीर को थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है क्योंकि उनके पारिवारिक विवाद पर लिखे खत ने पूरे देश में हंगामा मचा दिया था। अब बदले हुए हालात में ये तय माना जा रहा है कि टिकट बंटवारे में भी सीएम की ही चलेगी। सपा मुखिया समझ गये हैं कि बिना अखिलेश को आगे किए सपा की हालत भी खराब रहने वाली है।
सपा मुखिया ने आज बर्खास्त किए गये युवा नेताओं को अपने घर बुलाकर पहले उन्हें जमकर डांटा और फिर माफ कर दिया। चुपचाप सर झुकाये सपा से इन नौजवानों को पता था इस हंगामे का यही अंजाम होना था। मगर इन नौजवानों के तीखे तेवरों ने न सिर्फ सीएम का कद बढ़ाया उनका आत्मविश्वास भी बढ़ा दिया। सीएम ने विवाद के बाद अकेले चुनाव में जाने का ऐलान किया और उसके बाद रथयात्रा निकाली। रथयात्रा में उमड़े जनसैलाब से तय हो गया कि समाजवादी पार्टी की कमान अब अखिलेश यादव के हाथ में ही रहनी चाहिए। गौरतलब है कि सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के आवास पर आज सुबह करीब 11 बजे से ही पार्टी की यूथ विंग के कार्यकर्ताओं का जमावड़ा होने लगा था। इस बात के कयास लगाये जा रहे हैं कि रामगोपाल यादव की वापसी के बाद अनुशासनहीनता के आरोप में पार्टी से निकाले गये यूथ विंग के नेताओं को भी शामिल किया जायेगा क्योंकि आज मुलायम से मिलने पहुंचे यूथ विंग के नेताओं के पास माफीनाफा देखा गया। जिन नेताओं से माफीनामा लेकर पार्टी में शामिल करने की बात चल रही है, उसमें एमएलसी सुनील साजन, संजय लाठर, आनंद भदौरिया, अरविंद सिंह, गौरव दुबे, मो. एबाद शामिल हैं।

Pin It