36 घंटे बाद भी खाली हाथ नजर आयी हाईटेक पुलिस

  • डीएफओ अधिकारी के घर डकैती का मामला

लखनऊ। राजधानी में बेखौफ बदमाशों ने अपना तांडव मच रखा है। एक बाद एक वारदात को अंजाम देकर अपराधियों के हौसले और भी बुलंद हो चुके है। दो दिन पहले देर रात करीब आधा दर्जन से अधिक असलहे से लैस बदमाशों ने एक डीएफओ अधिकारी को उनके परिवार सहित बंधक बनाकर डकैती डाली। हाइटेक कही जाने वाली पुलिस को इसकी भनक तक नही लगी। फिलहाल इस मामले में करीब 36 घंटे बीतने के बाद भी पुलिस अभी तक किसी नतीजे पर नही पहुची है।
गौरतलब है कि बीते शुक्रवार की देर रात गोमती नगर थाना क्षेत्र के विराजखण्ड में रहने वाले अशोक कुमार शुक्ला अम्बेडकर नगर में वन विभाग में डीएफओ हैं। बीती करीब रात ढाई बजे आधा दर्जन से अधिक असलहाधारी बदमाशों ने उनके घर पर धावा बोल दिया। बदमाशों ने पहले नौकर हरिराम को चादर से बांध दिया। डीएफओ उनकी पत्नी निशा, बेटी नेहा व बेटा पार्थ को बंधक बनाकर असलहे के दम पर जमकर लूटपाट की। इसमें से एक बदमाश ने बांका लिया हुआ था। जो मारने की धमकी दे रहा था। बदमाशों ने घर में रखा लाखों रुपये की नगदी व सोने चांदी के जेवरात लूट लिए और फरार हो गये। बदमाशों के जाने के बाद पीडि़तों ने इसकी सूचना पुलिस को दी तो महकमे में हडक़ंप मच गया। डीआईजी आरकेएस राठौर, एसएसपी मंजिल सैनी, एएसपी, सीओ और थाने की पुलिस टीम के साथ क्राइम ब्रांच, डॉग स्कवॉड, फिंगर प्रिंट दस्ते के साथ घटना स्थल पहुचे और छानबीन की थी।
इस संबंध में एसएसपी मंजिल सैनी ने बताया कि अब तक पुलिस अपराधियों का कोई सुराग नहीं लगा पाई है। मामले को गंभीरता सेे लेते हुए छह टीमों का गठन किया गया है। जो अपने तरीके से अपराधियों का पता लगाने और मामले की जांच में जुटी हैं। बहुत जल्द मामले का खुलासा हो जायेगा।

Pin It