11 साल से इन बहनों को था विलियम का इंतजार, एक पल में वादा तोड़ गए प्रिंस

  • सुखप्रीत और बलप्रीत ने बताया कि इतनी पास होकर भी न मिल पाने का मलाल

  • वे खत और ट्विटर के माध्यम से ये शिकायत शाही जोड़े से करेंगी

Capture 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
आगरा: ब्रिटिश शाही जोड़ा ताज महल का दीदार कर दिल्ली रवाना हो गया। प्रिंस विलियम यहां अपनी मां डायना की यादें ताजा करने आए थे। साथ ही उन्होंने एक वादा इंडिया की 2 जुड़वा बहनों से भी किया था, जिसे वे पूरा नहीं कर सके।
रांची (झारखंड) की जुड़वा बहनें सुखप्रीत और बलप्रीत प्रिंस विलियम और केट मिडलटन की बड़ी फैन हैं। रॉयल कपल ने इन दोनों से मिलने का वादा इंग्लैंड से लैटर लिख कर किया था, लेकिन वे इसे निभा नहीं पाए। इसमें सबसे बड़ी अड़चन सुरक्षा व्यवस्था रही। ये दोनों कठिनाइयां झेलते हुए मीलों दूर से ताज महल सिर्फ केट-विलियम से मिलने आईं थीं। वे अपने साथ गिफ्ट के रूप में हाथों से बनाया कोलाज और डायरी लाईं थीं। ये दोनों बहनें 22 साल की हैं। 11 साल की उमर से ही दोनों ब्रिटिश जोड़े की जबरदस्त फैन हैं। दोनों बहंने जोड़े की हर खबर की कटिंग और फोटो संभाल कर रखती हैं और ट्विटर और अन्य सोशल साइट्स पर भी फॉलो करती हैं। उनका प्यार देख कर ब्रिटिश जोड़े ने दोनों को खत के माध्यम से भारत आने पर मिलने का प्रॉमिस किया था। साथ ही अच्छे प्रशंसक होने के लिए धन्यवाद भी दिया था। शाही जोड़े के ताजमहल आने की खबर सुनकर दोनों जुड़वा बहनें खुशी से झूम उठीं। उन्होंने तुरंत अपनी मां हरप्रीत और पिता रविन्द्र से जिद कर आगरा का तत्काल टिकट करवाया। दोनों सुबह से ताज महल के बाहर तपती धूप में खड़ी शाही जोड़े का इंतजार करती रहीं। विलियम-केट के ताज पहुंचते ही दोनों टिकट खरीद कर अंदर पहुंच गईं और हर मीडिया कर्मी और पुलिस के आगे अपनी दास्तान सुना कर मदद के लिए गुहार लगाती रहीं। इतनी मेहनत के बावजूद वे रॉयल कपल से मुलाकात नहीं कर पाईं।
ट्विटर पर करेंगी शिकायत
सुखप्रीत और बलप्रीत ने बताया कि इतनी पास होकर भी न मिल पाने का मलाल उन्हें सारी जिंदगी रहेगा। वे खत और ट्विटर
के माध्यम से ये शिकायत शाही जोड़े
से करेंगी।

Pin It