सुब्रत रॉय सहारा की अंतरिम जमानत 6 फरवरी तक बढ़ी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

captureलखनऊ। सुप्रीम कोर्ट ने सुब्रत रॉय सहारा की अंतरिम जमानत अवधि को 6 फरवरी 2017 तक के लिए बढ़ा दिया है। इसके साथ ही कोर्ट ने सहारा ग्रुप से 600 करोड़ रुपए और जमा कराने को कहा है। इससे पहले कोर्ट ने रॉय की पैरोल 28 नवंबर तक के लिए बढ़ाई थी। कोर्ट के फैसले से सहारा श्री को थोड़ी राहत
मिली है।
इन्वेस्टर्स के पैसे लौटाने को लेकर सेबी और सहारा के बीच विवाद चल रहा है। इसकी सुनवाई सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच कर रही है। कोर्ट ने सुब्रत रॉय की अंतरिम जमानत अवधि बढ़ाने से पहले कहा था कि सहारा ग्रुप सेबी के पास बकाया रकम 12 हजार करोड़ रुपए कैसे जमा करवाएगा, इसका वह रोडमैप सबमिट करे। कोर्ट ने सहारा को प्रॉपर्टीज के बारे में जानकारी छिपाने पर भी लताड़़ लगाई थी। बता दें सहारा ने सेबी के पास जो 60 प्रॉपर्टीज सबमिट की थी, उसमें से 47 प्रॉपर्टीज इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से अटैच्ड थीं। लेकिन इसकी जानकारी कोर्ट को नहीं दी गई थी। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने रॉय को 6 मई को पैरोल पर रिहा किया था। उन्हें ये पैरोल उनकी मां का निधन होने के बाद मानवीय आधार पर दी गई थी। वे तब से जेल से बाहर हैं। इस पैरोल को पहले 11 जुलाई तक बढ़ा दिया गया था। इसके बाद कोर्ट ने राय की पैरोल 3 अगस्त तक और फिर 28 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी थी। नये फैसले के तहत अब सुब्रत रॉय को 6 फरवरी तक की राहत मिली है।

Pin It