सिविल अस्पताल में जल्द शुरू होगी एसडीपी की सुविधा

  • अस्पताल प्रशासन ने शासन को भेजा प्रस्ताव

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल में मरीजों को जल्द ही सिंगल डोनर प्लेटलेट्स (एसडीपी) की सुविधा मिलनी शुरू हो जायेगी। यह सुविधा डेंगू के गम्भीर मरीजों के लिए काफी राहत देने वाली साबित होगी। फिलहाल इस संबंध में अस्पताल प्रशासन ने उच्च अधिकारियों को प्रस्ताव भेज दिया है।
एसडीपी की सुविधा अभी केवल केजीएमयू तथा पीजीआई में उपलब्ध है। जिले में डेंगू मरीजों की भीड़ के मुकाबले चिकित्सा संसाधन नाकाफी साबित हो रहे हैं। इसलिए मरीजों को बेहतर इलाज मुहैया कराने के लिए सिविल अस्पताल में भी मशीन स्थापित करने का निर्णय लिया गया है। अस्पताल के सीएमएस डॉ. आशुतोष दुबे के मुताबिक उच्च आधिकारियों को प्रस्ताव भेज दिया गया है, जिसे जल्द ही मंजूरी मिलने की उम्मीद है।
डॉ. अशुतोष दुबे ने बताया है कि डेंगू के मरीजों में तेजी से प्लेटलेट्स काउंट कम होता है। लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं है। शरीर से रक्तस्राव या 10 हजार से कम प्लेटलेट्स होने पर ही प्लेटलेट्स चढ़ाया जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि एसडीपी में मरीज के समान ब्लड ग्रुप का डोनर लाना होता है। डोनर के शरीर से मशीन के माध्यम से प्लेटलेट्स निकालकर सीधे मरीज को चढ़ा देते हैं। इससे मरीज के शरीर में प्लेटलेट्स काउंट 25 से 40 हजार तक बढ़ जाता है। वहीं एक बार प्लेटलेट्स डोनेट करने वाला व्यक्ति पांच दिन बाद दोबारा प्लेटलेट्स या रक्तदान कर सकता है। जबकि रक्तदान के बाद तीन महीने तक दोबारा रक्तदान नहीं किया जा सकता है।

Pin It