सिटी ब्रीफ

युवक की हत्या के मामले में दो गिरफ्तार

लखनऊ। राजधानी के गुडंबा थाना क्षेत्र में रविवार की रात एक युवक की अज्ञात बदमाशों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। इस मामले को पुलिस छुपाने में जुट गई थी। इसी वजह से हत्या को दुर्घटना बता रही थी। लेकिन परिजनों के विरोध प्रदर्शन पर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया। इस घटना में मुख्य आरोपी समेत दो व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गुडंबा थाना क्षेत्र के खुर्रम नगर निवासी नौशाद (22) पुत्र स्व. जहीरुल हसन इलेक्ट्रीशियन का काम करता था। भाई शमशाद के अनुसार बीते रविवार की रात नौशाद अपने दोस्त सलमान और रंजीत के साथ निकल था। जो निसातगंज गोल मार्केट होते हुए विन पैलेस पहुंचा, तो दो बाइकों पर सवार करीब आधा दर्जन बदमाशों ने नौशाद पर हमला बोल दिया। उसको बुरी तरह से पीट-पीटकर घायल कर दिया। इस घटना की सूचना नौशाद के दोस्त ने परिजनों को दी। परिजन मौके पर पहुंचे और नौशाद को लोहिया अस्पताल ले गये। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पीडि़त परिवार ने पुलिस को सूचना दी लेकिन वह पूरे मामले को सडक़ हादसा बताती रही। इसलिए परिजनों ने हंगामा और प्रदर्शन शुरू कर दिया। फिलहाल इस मामले में पुलिस ने धारा 302, 147,148 व 149 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया और मुख्य आरोपी समेत दो आरोपियों को हिरासत में ले लिया है। थाना प्रभारी ने बताया कि हत्या प्रेम प्रसंग के चलते हुई है। पुलिस ने ऐशबाग निवासी कमलेश झा को बीती रात 3 बजे गिरफ्तार किया। जबकि दूसरे आरोपी सर्वेश पाल को काकोरी से 4 बजे गिरफ्तार किया गया। इन युवकों से पूछताछ में मालूम हुआ कि नौशाद और कमलेश दोनों एक ही लडक़ी से प्रेम करते थे। लडक़ी का नाम नीलू जयसवाल है। उससे प्रेम की वजह से दोनों में रंजिश चल रही थी। आखिरकार कमलेश ने अपने दोस्त के साथ मिलकर नौशाद की हत्या कर दी।

कार सवार बदमाशों ने युवक को लूटा

लखनऊ। राजधानी के मोहनलालगंज थाना क्षेत्र में मुंडन समारोह से लौट रहे एक युवक को बेखौफ बदमाशों ने लूट लिया। कार सवार बदमाशों ने युवक को पहले अगवा किया, उसके बाद हाथ-पैर बांधकर तमंचे की नोक पर लूट की वारदात को अंजाम दिया और फरार हो गए। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस विभाग के आलाअधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी।
जानकारी के अनुसार निगोहां थाना क्षेत्र स्थित निगोहां बाजार निवासी जय प्रकाश सोनी पुत्र रामकृष्ण सोनी मनी ट्रंासफर में गार्ड का काम करते हैं। जय प्रकाश के मुताबिक सोमवार की रात करीब 12 बजे वह मोहनलालगंज में किसी रिश्तेदार के घर में आयोजित मुंडन समारोह में शामिल होकर घर लौट रहे थे। इसी बीच एक सफेद रंग की कार सामने आई और उसमें सवार बदमाशों ने जबरन गाड़ी में बिठा लिया। इसके बाद उनको निगोहां तक छोडऩे की बात करने लगी। लेकिन कार से कुछ दूर आगे जाने के बाद बदमाशों ने असलहे के दम पर उसकी चेन, अगूंठी, मोबाइल व नगदी लूट लिया। उसके बाद हाथ-पैर बांधकर कनकहा रेलवे क्रोसिंग के पास फेंककर फरार हो गए। इस घटना की सूचना मिलते ही मौके पर सीओ मोहनलालगंज और इंस्पेक्टर मोहनलालगंज भी घटना स्थल पहुंचे। पुलिस ने आज सुबह पीडि़त की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

पिछड़ा वर्ग को लुभाने में जुटी भाजपा

लखनऊ। प्रदेश की राजनीति में महत्वपूर्ण स्थान रखने वाले सपा व बसपा को चुनाव से पूर्व कमजोर करने की रणनीति के तहत भाजपा उनके वोट बैंक में सेंध मारने की फिराक में है। दलितों को लुभाने के लिए जहां परिवर्तन चौपाल आयोजित हो रही है, वहीं पिछड़ी जातियों को लुभाने के लिए पिछड़ा वर्ग सम्मेलनों का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेश की 403 विधान सभाओं में 200 सम्मेलन आयोजित करने की योजना है। भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रदेश में आयोजित किये जा रहे पिछड़ा वर्ग सम्मेलनों के क्रम में आज जौनपुर के मुगराबादशाहपुर व मछलीशहर विधानसभा में संयुक्त सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। इसी तरह हरदोई में साण्डी सुरक्षित, बिलग्राम व मल्लावा विधानसभाओं का संयुक्त सम्मेलन आयोजित होगा। पार्टी के प्रदेश महामंत्री एवं पिछड़ा वर्ग प्रदेश प्रभारी अशोक कटारिया ने बताया कि जौनपुर की दो विधानसभाओं के संयुक्त सम्मेलन को पूर्व मंत्री फागू सिंह चैहान और पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष करण सिंह पटेल संबोधित करेंगे। जबकि हरदोई की दो विधानसभाओं के सम्मेलन को संासद राजवीर सिंह व राजेश वर्मा सम्बोधित करेंगे। श्री कटारिया ने प्रदेश मे होने वाले पिछड़ा वर्ग सम्मेलनों के संबन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि पश्चिम क्षेत्र की 71 विधानसभा क्षेत्रों में 34, ब्रज क्षेत्र की 65 विधानसभाओं में 32 सम्मेलन होंगे। जबकि अवध क्षेत्र की 82 विधानसभाओं में 41 पिछड़ावर्ग सम्मेलन आयोजित किये जायेगें। पिछड़ा वर्ग सम्मेलनों के प्रभारी ने बताया कि कानपुर की 52 विधानसभाओं में 26, गोरखपुर क्षेत्र की 62 विधानसभाओं में 31 तथा काशी क्षेत्र की कुल 71 विधानसभाओं में 34 सम्मेलन आयोजित किये जा रहे हैं। श्री कटारिया ने कहा कि पार्टी के पिछड़ा वर्ग सम्मेलनों को जनता का भरपूर समर्थन मिल रहा है। इसके अलावा पिछड़ा वर्ग में पैठ रखने वाले विधान सभा के पूर्व नेता विपक्ष व वरिष्ठï भाजपा नेता स्वामी प्रकाश मौर्य को विशेष जिम्मेदारी दी गई हैै।

Pin It