सिटी ब्रीफ

राजधानी में बर्ड फ्लू पर अलर्ट

लखनऊ। लखनऊ के जिलाधिकारी सत्येन्द्र सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में ‘बर्ड फ्लू की रोकथाम की तैयारी, नियन्त्रण एवं शमन‘ के लिए जनपद स्तरीय टास्क फ ोर्स की बैठक हुई। जिलाधिकारी ने बर्ड फ्लू के नियंत्रण हेतु किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने हेतु जनपद स्तरीय टास्क फोर्स को सतर्क रहने को कहा है। इसके अलावा जिले में स्थित वाटर बाडीज पर निगरानी हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को सतर्क रहने को भी कहा है। बैठक में मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला सूचना अधिकारी, जिला स्तरीय सिंचाई विभाग अधिकारी एवं जिला वन अधिकारी शामिल रहे। पशुपालन विभाग के अधिकारियों द्वारा कुक्कुट पालकों को कुक्कुट प्रक्षेत्रों से सम्पर्क कर उन्हें बायो सिक्योरिटी पक्षियों में रोग फैलाने वाले जीवाणुओं विषाणुओं से बचाव हेतु आवश्यक उपाय बताये जा रहे हैं। इसके अलावा बायोलोजिकल सर्विलांस हेतु पक्षियों से सीरम सैम्पल एकत्र कर आईवीआरआई प्रयोगशाला, इज्जतनगर बरेली को नियमित रूप से प्रेषित किये जाने के निर्देश दिये गये हैं। संबंधित सभी अधिकारियों को पक्षियों की आकस्मिक मृत्यु होने पर सतर्क रहने हेतु निर्देशित किया गया है। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि बर्ड फ्लू की किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिये जनपद स्तर पर पांच रैपिड रिस्पांस टीमों का गठन किया जा चुका है।

कुंडे से लटका मिला युवक का शव, हत्या की आशंका

लखनऊ। राजधानी के गोसाईगंज के मलौली गांव निवासी विकास (27) का शव उसके घर में दरवाजे के कुंडे से लटका मिला। परिजनों ने पड़ोसियों पर मारपीट का आरोप लगाया है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। गोसाईगंज थाना क्षेत्र स्थित मलौली गांव निवासी विकास (27) की बीते संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। मृतक के भाई धर्मेन्द्र का आरोप है कि पड़ोस में रहने वाले कल्लू मिलन जगन्नाथ ने पैसों के लेन-देन को लेकर भाई को पीटा था। जिसके बाद वह घर आया। घर आने पर उसकी पत्नी मैना देवी से भी उसका शराब को लेकर झगड़ा हुआ, जिससे क्षुब्ध होकर उसने घर के दरवाजे के कुंडे से साड़ी के सहारे लटक कर आत्महत्या कर ली। धर्मेन्द्र का आरोप है कि उसके भाई की मौत संदिग्ध है क्योंकि कुंडे से फांसी लगाने के दौरान उसके पैर जमीन से लगे हुए थे। मृतक के दो बेटियां पूनम और सोनम हैं।

जिला जेल में कैदी की मौत

लखनऊ। राजधानी के गोसाईगंज स्थित जिला कारागर में तीन वर्षों से आजीवन कारावास की सजा काट रहे कैदी की बीते दिन मौत हो गई। जेल अधीक्षक अनुसार कैदी हुकुमा की अचानक तबीयत बिगडऩे से इलाज के दौरान बलरामपुर अस्पताल में मौत हुई। मौत कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। जानकारी के अनुसार जिला जेल में उम्र कैद की सजा काट रहे कैदी हुकुमा (66) की बीते दिन अचानक से तबियत खराब हो गयी। जिसके बाद उसे जेल से अस्पताल ले जाया गया। लेकिन हालत बिगड़ते देख डाक्टरों ने उसे बलरामपुर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। जहां सीने में दर्द बडऩे से इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। जेल अधीक्षक शशिकान्त मिश्रा ने बताया कि मृतक कैदी मूलत: एटा जिले का निवासी है यह बाराबंकी में हत्या तथा तालकटोरा लखनऊ से 307 सहित कई थानाक्षेत्रों में आपराधिक मामलों में नामित था।

Pin It