सरकारी अस्पतालों की अव्यवस्था से नाखुश हैं लोग

सरकारी अस्पतालों में अव्यवस्था का आलम है। जिसके चलते आम नागरिकों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है। यही वजह है कि आर्थिक रूप से सक्षम लोग इलाज कराने के लिए सरकारी अस्पतालों की जगह निजी अस्पतालों को चुनते हैं। लेकिन सरकारी अस्पताल को चुनने वाले लोग क्या वहां की व्यवस्था से खुश रहते हैं? सरकारी और निजी अस्पताल में लोग किसे ज्यादा बेहतर मानते हैं इस पर हमारी संवाददाता ऐश्वर्या गुप्ता ने जानी लखनऊवाईट्स की राय…capture

Pin It