सपा सम्मलेन पर टिकीं देश के सभी दलों की निगाहें

  • समाजवादी पार्टी कल मना रही है अपना रजत जयंती समारोह
  • समारोह के बहाने एक बड़ा गठबंधन बनाने की तैयारी कर रही है पार्टी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। समाजवादी पार्टी अपने 25 साल पूरे होने पर रजत जयंती के बहाने देश भर के धर्मनिरपेक्ष विचारधारा के नेताओं को एक मंच पर लाकर एक नया गठबंधन बनाने की तैयारी में जुट गई है। चुनाव से पहले इस सम्मेलन में भीड़ जुटाने के लिए पार्टी ने पूरी ताकत झोंक दी है। पारिवारिक विवाद के बीच कल सीएम अखिलेश यादव ने अपनी रथ यात्रा शुरू करने से पहले सभी नौजवानों से इस सम्मेलन को सफल बनाने की जोरदार अपील करके एक नया संदेश दे दिया है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने इस सम्मेलन को सफल बनाने के लिए दिन रात एक कर दिया है।
पार्टी चाहती थी कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी इस सम्मेलन में भाग लें मगर उन्होंने कहा कि छठ के त्यौहार के कारण वह इस कार्यक्रम में भाग नहीं ले पायेंगे। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता अबू आजमी ने बताया कि समारोह में लालू प्रसाद यादव, शरद यादव और एचडी देवेगौड़ा के शामिल होने की स्वीकृति मिल गई है।राष्टीय लोकदल के अजित सिंह भी सम्मेलन में भाग लेने आ रहे हैं।
प्रदेश भर के जिलाध्यक्षों को इस सम्मेलन में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं को लाने की तैयारियों के निर्देश दिए गए हैं। पार्टी के प्रवक्ता दीपक मिश्रा ने कहा है कि इस सम्मेलन से संदेश जायेगा कि देश भर के धर्मनिरपेक्ष लोग एक साथ होकर साम्प्रदायिकता का मुकाबला करने के लिए तैयार हैं। लखनऊ की सभी प्रमुख सडक़ें पार्टी के होर्डिग्स और गेट से सज गई हैं। सपा मुखिया मुलायम सिंह भी तैयारियों की समीक्षा कर

Pin It