शेखर अस्पताल में दो मरीजों की मौत, हंगामा

  • अस्पताल पर धनउगाही व इलाज में लापरवाही का लगाया आरोप

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। राजधानी के इन्दिरा नगर स्थित शेखर अस्पताल में आज समय पर ऑक्सीजन तथा चिकित्सक न मिलने का खामियाजा दो मरीजों को अपनी जान देकर चुकाना पड़ा है। मरीजों की मौत से गुस्साये परिजनों ने जमकर हंगामा किया और प्रशासन पर इलाज में लापरवाही तथा धन उगाही का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी। अस्पताल में हंगामे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देकर परिजनों को शांत कराया।
शेखर अस्पताल प्रशासन पर पहले भी नियम और कानून का पालन नहीं करने और मरीजों से धन उगाही तथा इलाज में लापरवाही के आरोप लग चुके हैं। लेकिन इस पर आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। आज सुबह भी इलाज में लापरवाही और धन उगाही को लेकर हंगामा हुआ। बाराबंकी के टिकैतगंज निवासी आशीष यादव(28) के परिजनों के मुताबिक डेंगू बुखार की समस्या पर आशीष को भर्ती कराया गया था। बीती रात तक आशीष की तबीयत बिल्कुल ठीक थी। लेकिन अचानक ही अस्पताल के डॉक्टर ने मरीज की किडनी में इंफेक्शन की जानकारी दी, लेकिन आज सुबह अचानक मरीज के मुंह से खून आने लगा। बुलाने के बाद भी डाक्टर नहीं आये। जब मरीज की सांस उखडऩे लगी, तो मौके पर मौजूद नर्स ने बताया कि अभी ऑक्सीजन नहीं है। इसके बाद मरीज की मौत हो गयी।
इसके अलावा सुल्तानपुर निवासी श्रीकांत (32) की भी आज सुबह शेखर अस्पताल में ऑक्सीजन न मिलने के चलते मौत हो गयी। परिजन योगेश मिश्रा ने बताया कि श्रीकांत की तबीयत रात तक पूरी तरह ठीक थी। सुबह अचानक मरीज ने उलझन और संास लेने में दिक्कत बतायी। मौके पर मौजूद नर्स ने मरीज को देखा और कहा कि अभी डॉक्टर नहीं है और ऑक्सीजन भी खत्म हो गयी है। जिसके बाद मरीज की मौत हो गयी।

Pin It