मोदी की रैलियों से बहुत उम्मीदें हैं भाजपा को

  • भाजपा को है यकीन मोदी की रैलियों से लोकसभा जैसा माहौल बन जायेगा यूपी में
  • चुनाव तक 30 से ज्यादा बड़ी रैली कर सकते हैं पीएम
  • अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन पर लखनऊ में ऐतिहासिक रैली कर सकते हैं पीएम मोदी

captureसुनील शर्मा

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी को पूरी उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैलियों से उत्तर प्रदेश में भाजपा के पक्ष में पूरा माहौल बन जाएगा। खुद प्रधानमंत्री ने यूपी फतह के लिए एक शानदार योजना तैयार की है। यूपी को कई हिस्से में बांटकर प्रधानमंत्री की एक बड़ी रैली हर हिस्से में कराई जायेगी। सपा-बसपा पर प्रदेश को चौपट करने के आरोप  लगाने के साथ-साथ मोदी सरकार के उल्लेखनीय कामों को जनता तक पहुंचाया जायेगा। भाजपा की रणनीति है कि देश में हो रहे विकास कार्यों के साथ-साथ सेना की बहादुरी और विदेशों में पीएम मोदी के प्रभाव के कारण देश के सम्मान जैसे संवेदनशील मुद्दे आम आदमी तक पहुंचाए जायेंगे।

भाजपा जानती है कि नरेन्द्र मोदी के प्रभावशाली भाषणों से देश में एक अलग किस्म का माहौल बन जाता है। पार्टी यह भी जानती है कि खुद पीएम मोदी से बड़ा स्टार प्रचारक उनके लिए कोई दूसरा नहीं हो सकता। भाजपा की सारी रणनीति पीएम मोदी के इर्द-गिर्द ही घूम रही है और चुनाव में उसका भरपूर फायदा उठाने की तैयारी भी हो रही है।  अमित शाह भी जानते हैं कि उनके लिए और पार्टी के लिए यह चुनाव जीतना कितना जरूरी है, लिहाजा वह भी नरेन्द्र मोदी की रैलियों से पहले पूरे प्रदेश में मोदी के कामों की ब्रॉडिंग करने में जुट गए हैं। भाजपा यह भी जानती है कि अगर उत्तर प्रदेश में वह इन चुनावों में फतह हासिल नहीं कर पाई तो उसके लिए 2019 का चुनाव भारी पड़ जायेगा। पार्टी अभी तक सीएम का चेहरा तय नहीं कर पाई है। पार्टी को लगता है कि एक व्यक्ति को पार्टी का चेहरा घोषित करने से उसे चुनाव में नुकसान होगा, लिहाजा वह सीएम के चहेरे की जगह खुद पीएम मोदी को स्टार प्रचारक के रूप में चुनाव में उतारेगी।

Pin It