महंगा नमक बेचने वालों की खैर नहीं

  • कालाबाजारी करने और अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ होगी एफआईआर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड के अलग-अलग हिस्सों में बीते शुक्रवार की शाम नमक के दाम अचानक से बढऩे की अफवाह तेजी से फैली गयी । जिसका असर लखनऊ, सीतापुर, लखीमपुर, फैजाबाद, बाराबंकी, बलरामपुर, गोंडा सहित अधिकतर जिलों में देखने को मिला। हजारों की संख्या में लोग नमक खरीदने के लिए उमड़ पड़े। लखनऊ के पश्चिम क्षेत्र में कई स्थानों पर मारपीट व तोडफ़ोड़ की गई। सूचना पर एसएसपी मंजिल सैनी मौके पर पहुंचीं और लोगों समझा-बुझाकर शांत कराया। एसएसपी ने कालाबाजारी करने और अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए।
राजधानी के रकाबगंज, मशकगंज, वजीरगंज इलाके में नमक महंगा होने की अफवाह फैल गई। हजारों की संख्या में नमक खरीदारों का हुजूम उमड़ पड़ा। लोग थैलों में नमक लेकर जाते दिखे। अफवाह के बाद नोट बदलने की लाइन छोडक़र लोग नमक खरीदने के लिए लाइन में लग गए। नमक की अचानक मांग बढ़ जाने से छोटी दुकानों में स्टॉक खत्म हो गए। लखनऊ पश्चिम क्षेत्र अकबरी गेट, तुरियागंज में नमक खरीदने के लिए लोगों ने दुकानों में तोडफ़ोड़ व लूटपाट शुरू कर दी। सूचना पर एसपी पश्चिम जयप्रकाश , सीओ बाजारखाला विमल श्रीवास्तव और बाजारखाला पुलिस मौके पर पहुंची। एसएसपी ने नमक की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। वहीं, सीतापुर में 150 रुपए किलो तक नमक बिका। बलरामपुर में 100 रुपए किलो नमक बेचा गया। सीतापुर में जब इसकी जानकारी प्रशासन को मिली तो उसने बाजार की दुकानें बंद करा दीं। राजधानी में नमक को लेकर अफवाह फैलने के बाद जिला प्रशासन ने टीमें गठित कर छापेमारी शुरू कर दी है। एसएसपी मंजिल सैनी ने खुद कई स्थानों पर जाकर न सिर्फ लोगों को इस अफवाह से अवगत कराया बल्कि उन्हें समझा-बुझाकर कर शांत करा दिया।

Pin It