फिल्मकारों के लिए यूपी-उत्तराखंड मिलकर तैयार करेगा आकर्षक नीति

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

captureलखनऊ। उत्तर प्रदेश फिल्म विकास परिषद के उपाध्यक्ष गौरव द्विवेदी ने मंगलवार को उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत से मुलाकात की। उन्होंने उत्तर प्रदेश की फिल्म विकास नीति और उसकी लोकप्रियता के बारे में विस्तार से बताया। साथ ही दोनों राज्यों के बीच बेहतर संतुलन स्थापित कर संयुक्त फिल्म नीति और मनोरंजन को बढ़ावा देने का प्रस्ताव भी रखा है। इस मामले में हरीश रावत की तरफ से सकारात्मक संदेश दिया गया है।
उत्तराखंड में मसूरी, पौड़ी गढ़वाल, काठगोदाम, ऋषिकेश और डलहौजी समेत अनेकों खूबसूरत स्थल हैं। यहां पहाड़, झरने और खूबसूरत नजारे हैं, जिनको फिल्मों में बेहतर ढंग से फिल्माया जा सकता है। इसलिए गौरव द्विवेदी ने उत्तराखंड से मुख्यमंत्री से मिलकर मनोरंजन को बढ़ावा देने की दिशा में मिलजुलकर प्रयास करने और फिल्म विकास की संयुक्त नीति बनाने का प्रस्ताव रखा है। यदि दोनों राज्यों ने मिलकर फिल्म विकास को बढावा देने की दिशा में काम किया, तो आने वाले समय में बॉलीवुज ही नहीं हालीवुड के निर्माता और निर्देशक भी पहुंचेंगे। जिसका निश्चित तौर पर दोनों राज्यों को लाभ होगा। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश की बेहतर फिल्म विकास नीति को बॉलीवुड के निर्माता और निर्देशक काफी तरजीह दे रहे हैं। इसका जीता-जागता उदाहरण यूपी को सर्वश्रेष्ठ फिल्म नीति के लिए इंडीवुड फिल्म कार्निवाल में इंडरनेशनल बिजनेस अवार्ड-2016 दिया जाना है। इस कार्निवाल में बॉलीवुड, हॉलीवुड के कलाकार, निर्माता और निर्देशक भी मौजूद थे। सब लोगों ने एक स्वर में यूपी की फिल्म नीति की सराहना की थी। यूपी सरकार हॉलीवुड के निर्माता-निर्देशकों को फिल्म बनाने का बेहतर माहौल दिलाने का प्रयास कर रहा है।

Pin It