पुलिस के हत्थे चढ़े सरगना समेत पांच लुटेरे

  • चालक को बंधक बनाकर लूटा था सेब से भरा ट्रक
  • सुलतानपुर गैंग से हैं जुड़े

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मलिहाबाद थाना क्षेत्र में कश्मीरी सेब से लदे ट्रक के चालक को बंधक बनाकर लूटने वाले गिरोह का पर्दाफाश हो गया है। एसटीएफ के अधिकारियों की टीम ने लूट की घटना को अंजाम देने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दो लुटेरे भागने में सफल रहे। एसटीएफ का दावा है कि अंतर जनपदीय गिरोह के सरगना के साथ सुुल्तानपुर में मुठभेड़ के बाद लुटेरों को सामान के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है।
मलिहाबाद थाना क्षेत्र में 25 अक्टूबर की रात सेब से लदा ट्रक कुछ बदमाशों ने असलहे के बल पर लूट लिया था। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ अमित पाठक ने बताया कि मुखबिर के जरिये यह जानकारी प्राप्त हुई थी कि लूटा गया ट्रक व घटना में इस्तेमाल होने वाली सफारी गाड़ी गोसाईगंज, जनपद-सुल्तानपुर क्षेत्रान्तर्गत सैफु ल्लागंज के पास एक बाग में खड़ी है। इस ट्रक को गिरोह का सरगना बेचने की फिराक में हैं। इस सूचना पर उ.नि. विजेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में टीम गठित कर जानकारी जुटाई गई। तब पता चला कि इस घटना को जनपद-सुल्तानपुर के अपराधिक गिरोह ने अंजाम दिया है। इसके बाद एसटीएफ के उप निरीक्षक संदीप मिश्रा के नेतृत्व में मुखबिर की सूचना पर पहुंचकर क्षेत्र की घेराबन्दी कर ली। इसी बीच ट्रक के पास कुछ संदिग्ध व्यक्ति खड़े नजर आये, उनको टोका गया, तो उन लोगों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। करीब आधे घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद एसटीएफ टीम ने पांच अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। एसएसपी एसटीएफ के मुताबिक गिरफ्तार किए गए अभियुक्तों ने अपना नाम उदय कुमार कोरी उर्फ उदल उर्फ पहलवान पुत्र हीरालाल, दिलीप कुमार पुत्र गयाराम निवासी लौहर दक्षिण पो. बहलोलपुर, सुल्तानपुर, सोनू उर्फ सुरेश कुमार कोरी पुत्र होरी लाल निवासी बधुवाकलां चौदहवां, जिला-सुल्तानपुर, सोनू केसरी पुत्र जितेन्द्र केसरी निवासी कराह मोहम्मदाबाद, गोहना, जिला-मऊ, पिन्टू उर्फ जयभीम पुत्र स्व. मंगरू निवासी ग्राम सरायचल, पो. पखरौली, जिला-सुल्तानपुर बताया है। जबकि उनके दो अन्य साथी भागने में सफल रहे, लेकिन एसटीएफ की टीम उनकी तलाश में जुटी है। इन अभियुक्तों के पास से एक लूटी गयी ट्रक (आरजे 05 जीबी 3064), घटना में इस्तेमाल टाटा सफारी (डब्लूबी 20एच 4049), एक .32 बोर रिवॉल्वर, दो जिन्दा कारतूस .32 बोर, एक खोखा कारतूस .32 बोर, एक सीएमपी .315 बोर, दो जिन्दा कारतूस .315 बोर, दो ड्राईविंग लाईसेन्स, एक एटीएम कार्ड और 5 मोबाइल फोन बरामद हुए हैं।

Pin It