नोटिस भेज अवैध वसूली कर रहे इंजीनियर

  • एलडीए कोर्ट में सुनवाई के दौरान सामने आया मामला
    प्रवर्तन अनुभाग नहीं दे सका जवाब, वादियों को मिली जुर्माने से राहत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। एलडीए की आरबीओ न्यायालय में इंजीनियरों की अवैध वसूली का खुलासा हुआ है। सुनवाई के दौरान पता चला कि इंजीनियरों ने 18 लोगों पर बिना किसी प्रयोजन के अवैध निर्माण करने के लिए चालान जारी किए थे। इस पर एलडीए कोर्ट में सुनवाई के दौरान प्रवर्तन अनुभाग कोई जवाब नहीं दे सका। इससे वादियों को नोटिस व जुर्माने से राहत मिल गई है।
एलडीए के इंजीनियर अवैध निर्माण के नाम पर अवैध वसूली कर रहे हैं। इसके कारण बिना मानचित्र और मानचित्र के बाहर हो रहे निर्माणों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। एलडीए के आरबीओ न्यायालय में कुल 49 वाद विचाराधीन थे। प्राधिकारी व अधीक्षण अभियंता दुर्गेश श्रीवास्तव ने सुनवाई करते हुए इन प्रकरणों में से 27 का त्वरित निस्तारण किया। जानकारी के अनुसार 49 प्रकरण में से 18 मामलों में प्रवर्तन अनुभाग के भ्रष्ट इंजीनियरों ने अवैध वसूली के इरादे से नोटिस जारी किया। एलडीए के सूत्र बताते हैं कि अवर अभियंता अपने क्षेत्रों में निर्माणाधीन इमारतों को अवैध निर्माण के लिए नोटिस भेजते हैं। प्राधिकरण से मानचित्र पास कराने के बाद भी वसूली के लिए भवन को सील करने अथवा समन की कार्रवाई का दबाव बनाया जा रहा है। प्रवर्तन न्यायालय में ऐसे सैकड़ों मामले काफी समय से विचाराधीन थे। कोर्ट में 49 मामलों को रखा गया था। इनकी सुनवाई में 18 मामलों में प्रवर्र्तन अनुभाग चालान किए जाने की कार्रवाई को सिद्घ नहीं कर सका।

Pin It