नोटबंदी के बाद डाकघरों में खोले जा रहे नये खाते

खाता खोलने वालों की संख्या में तीन गुना बढ़ोतरी

लखनऊ। नोटबंदी के बाद राजधानी की हेड पोस्ट आफिस और अन्य डाकघरों में नोट जमा करने और बदलने वालों के बजाय खाता खोलने वालों की संख्या में भी तीन गुना बढ़ोतरी हुई है। इस संबंध में सीनियर पोस्ट मास्टर आरसी श्रीवास्तव ने सरकार को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि पांच सौ के पुराने और हजार रुपये के नोट बंद होने की घोषणा के बाद से लगातार डाकघरों में नये खाते खोले जा रहे हैं। डाकघरों में प्रतिदिन औसतन 150 से अधिक खाते खोले जा रहे हैं। इससे नये खाता धारकों की संख्या में तीन गुना बढ़ोतरी हो गई है। जबकि मुख्य डाकघर में प्रतिदिन 20 लाख से अधिक कैश जमा हो रहा है। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि डाकघरों में रोजाना कितने लोगों की भीड़ जुट रही है।

Pin It