नोटबंदी: अब सुप्रीम कोर्ट पर टिकीं निगाहें

  • केंद्र के फैसले के खिलाफ दायर याचिकाओं पर सुनवाई आज

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। एक हजार और पांच सौ के पुराने नोटों को चलन से बाहर करने के केंद्र सरकार के फैसले को रद्द करने की मांग वाली दो याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनवाई करेगा। याचिकाओं में कहा गया है कि इस फैसले से नागरिकों के जीवन और व्यापार समेत अन्य अधिकारों का उल्लंघन हो रहा है।
जाली मुद्रा और कालेधन को खत्म करने के उद्देश्य से जारी केंद्र के फैसले के खिलाफ दो वकीलों ने अलग-अलग जनहित याचिकाएं दाखिल की हैं। वकीलों ने दो पीठों के समक्ष अविलंब सुनवाई के लिए मामले को रखा है। याचिकाकर्ताओं का कहना है कि इस फैसले ने अफरातफरी का माहौल बन गया है। इसके चलते जनता का उत्पीडऩ हो रहा है। याचिकाकर्ताओं ने मांग की है कि वित्त मंत्रालय की इस अधिसूचना को या तो रद्द किया जाए या कुछ समय के लिए टाला जाए। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को 500 और एक हजार के नोटों को बंद करने का फैसला किया था। इस फैसले के बाद से देशभर में उथल-पुथल का माहौल है। पिछले सात दिनों से बैंकों और तमाम एटीएम के बाहर लोगों की लंबी-लंबी कतारें देखी जा रही हैं। कुछ लोग मोदी सरकार के इस फैसले की सराहना कर रहे हैं तो कुछ लोग इस फैसले का विरोध कर रहे हैं।
केंद्र पहुंचा सर्वोच्च न्यायालय

ऐसी याचिकाओं की संभावना को देखते हुए केंद्र सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है। सरकार ने एक कैवियट दाखिल कर कहा कि कोई भी अंतरिम आदेश जारी करने से पहले अदालत सरकार का पक्ष भी सुने।

नोट बदलने बैंक पहुंचीं पीएम मोदी की मां हीराबेन

नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन मंगलवार को नोट बदलवाने के लिए खुद चलकर गांधीनगर के एक बैंक पहुंची। उनके पास 500-500 के नौ नोट थे। बैंक में उन्होंने बाकायदा फॉर्म भरा। उनके साथ छोटे बेटे और नरेंद्र मोदी के भाई पंकज भी थे। हालांकि बैंक में हीराबा का अकाउंट नहीं है, लेकिन बैंक में पंकज का अकाउंट है। हीराबा के इस कदम को प्रेरणा देने वाला माना जा रहा है। उन्होंने सीनियर सिटिजन वाली लाइन में पैसे जमा कराए। गौरतलब है कि मोदी ने 8 नवंबर को 500-1000 के नोट बंद किए जाने का एलान किया था। इसके बाद से देश भर में लोग नोट बदलने के लिए बैंकों में कतार लगाए हुए हैं। नोटों की पर्याप्त उपलब्धता न होने के कारण जनता को काफी परेशानी उठाना पड़ रहा है। प्रदेश की राजधानी में आज जब बैंक खुले तो लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। एटीएम में भी लोगों की लाइनें लगी रहीं। हालांकि यहां के अधिकांश एटीएम बंद रहे।

Pin It