देश के बड़े नेताओं के सामने भी चाचा-भतीजे ने इशारों-इशारों में साधा एक दूसरे पर निशाना

  • देश भर के बड़े समाजवादी नेता जुटे सपा के रजत जयंती समारोह में और नेताजी से कहा कि गठबंधन का करें नेतृत्व
  • शिवपाल यादव ने साधा सीएम पर निशाना, कहा साढ़े चार साल में मंत्री रहते हुए उन्होंने किए ऐतिहासिक काम
  • सीएम ने कहा सब मिलकर बनायेंगे सरकार मैं कोई भी परीक्षा देने को हूं तैयार

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। सपा के रजत जयंती समारोह का आज भव्य आगाज हुआ। समारोह में न केवल यादव कुनबा बल्कि जनता परिवार भी एकमंच पर दिखा। इससे महागठबंधन को अमलीजामा पहनाने की सुगबुगाहट भी तेज हो गई। माना जा रहा है कि पार्टी के रजत जयंती समारोह के बाद बड़ा ऐलान हो सकता है। वहीं स्वागत भाषण के दौरान पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का दर्द फिर छलक उठा। उन्होंने अखिलेश यादव का स्वागत करते हुए कहा कि मेरा जितना भी अपमान कर लेना,बर्खास्त कर लेना, मुझे कभी भी मुख्यमंत्री नहीं बनना है। घुसपैठियों से सावधान रहने की जरूरत है। जो चाहना वो मांग लेना, मैं उफ नहीं करूंगा।
सम्मेलन में अखिलेश यादव ने भी कहा कि सब मिलकर सरकार बनायेंगे। उन्होंने कहा कि मुझे तलवार तो दे दी जाती है, मगर उसे चलाने का अधिकार नहीं दिया जाता। उन्होंने कहा कि वह कोई भी परीक्षा देने को तैयार हैं। अखिलेश के बोलते समय भीड़ ने सीएम के पक्ष में जोरदार नारेबाजी की।
सम्मेलन में मंच पर पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा, लालू यादव, शरद यादव, अजित सिंह, अजीत चौटाला, रामजेठमलानी समेत तमाम बड़े नेता मंच पर मौजूद थे। सबने सपा मुखिया से एकजुट होकर गठबंधन बनाने की वकालत की। आज के सम्मेलन के कारण कई रास्तों पर भयंकर जाम लगा हुआ था।

लालू ने कहा झगड़ा छोड़ो रथ लेकर निकलो

लालू यादव ने आज चाचा भतीजे के बीच आपसी झगड़े को समाप्त करवाने और दोनों को मंच पर एक साथ लाने का काम किया। उन्होंने सीएम व शिवपाल को बुलाकर दोनों के हाथ पकडक़र उठवाए और कहा झगड़ा छोड़ो विजय रथ लेकर निकलो।

 सीएम ने छुए चाचा शिवपाल के पैर

अखिलेश यादव ने समारोह की जिम्मेदारी संभाल रहे अपने चाचा शिवपाल यादव का पैर छूकर आशीर्वाद लिया। अखिलेश और शिवपाल यादव को तलवार भेंट की गई तो लालू यादव इन दोनों के बीच खड़े थे। जब अखिलेश तलवार उठाकर जोश दिखा रहे थे तब लालू ने इशारा कर अखिलेश को शिवपाल के पैर छूने के लिए कहा और अखिलेश ने भी बिना देर किए अपने चाचा का आशीर्वाद ले लिया।

Pin It