तंजील की हत्या में नमन की बाइक व प्रमोद की रिवाल्वर का हुआ था इस्तेमाल

  • मुनीर ने महज नई बाइक के लिए कर दी थी नमन की हत्या
  • गले नहीं उतर रही एसटीएफ के खुलासे में बताई गई थ्योरी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के अफसर तंजील अहमद हत्याकाण्ड के मुख्य आरोपी मुनीर को गिरफ्तार कर एसटीएफ ने गोमतीनगर में रेनेसां के मैनेजर नमन वर्मा की हत्या की गुत्थी सुलझाने का भी दावा किया है। एसटीएफ ने बताया कि मुनीर ने नमन की हत्या उसकी नई बाइक के लिए की थी। पूछताछ में उसने बताया कि उसे नई बाइक की जरुरत थी। इसलिए उसने ऐसा कदम उठाया।
एसटीएफ एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि 18 नवम्बर 2015 को मुनीर अपने साथी सऊद के साथ लोहिया पार्क के पास था। इस दौरान वहां से बिना नंबर की नई बाइक लेकर एक युवक निकला, इसके तुरंत बाद वह उसके पीछे चल दिया। रास्ते में उसने नमन को गोली मार कर बाइक लूट ली थी। उसके बाद दोनों बाइक लेकर मेरठ निकल गए।
एसटीएफ आईजी राम कुमार के अनुसार मुनीर ने तंजील की हत्या में नमन की बाइक और प्रमोद की रिवाल्वर का इस्तेमाल किया था। नवंबर में जब मुनीर सऊद के साथ लखनऊ में रह रहा था। उसने बाइक टांडा, अंबेडकरनगर ले जाने की बात कही थी। तब सऊद को घर पर इस्तेमाल के लिए बाइक की जरूरत थी। इसी के चलते उसने नमन की बाइक लूटी थी।
गले नहीं उतर रही थ्योरी
एसटीएफ अधिकारियों ने बताया कि मुनीर ने नई बाइक के लिए नमन की हत्या की थी। बाइक लूटने लिए दोनों ने नमन का पीछा किया था। नमन की हत्या के बाद पुलिस ने घटना स्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाली थी, जिसमें नमन के वहां से गुजरने की तस्वीर दिखी, लेकिन मुनीर के वहां से गुजरने की तस्वीरें नहीं मिली थी। ऐसे में मुनीर को बाइक चुराने के मामले से जोड़कर देखने की क्या वजह है। इसपर अधिकारियों ने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया।

घटना को अंजाम देने में इस्तेमाल बाइक की तलाश तेज

एएसपी अरविंद चतुर्वेदी ने बताया कि नमन की बाइक व प्रमोद की रिवाल्वर लूटने के लिए जिस बाइक का इस्तेमाल किया था। अभी उसका पता नहीं चल पाया है। बताया कि घटना को अंजाम देने के लिए उन्होंने जिस बाइक का इस्तेमाल किया था, वह भी लूट की थी। उसने वह बाइक दिल्ली स्थित ओखला के एक शॉपिंग माल के पास चोरी की थी। इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कितने शातिर ढंग से घटना को अंजाम दिया गया।

Pin It