डेंगू से निजात दिलाना स्वास्थ्य विभाग का दायित्व: डॉ. शिवाकान्त ओझा

  • राज्य सरकार ने डेंगू के मरीजों के लिए केन्द्र सरकार से मांगा टीका

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। राजधानी में महामारी का रूप ले चुके डेंगू से निजात दिलाने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. शिवाकान्त ओझा ने गुरूवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्य चिकित्सा अधिकारी के सभागार में हुई इस बैठक में मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनमत में डेंगू के व्याप्त भय को दूर करने के लिए ठोस रणनीति के तहत कार्य किया जाए। इसके अलावा उन्होंने डेंगू की वैक्सीन खोजने हेतु केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखने के भी निर्देश दिए हंै। उन्होंने शासन स्तर पर एक समिति बनाने और इस समिति में अन्य विभागों को शामिल करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि निजी पैथालाजी सेंटर व्यवसायिक नर्सिंग होम्स से सांठ-गांठ करके लोगों से धन उगाही कर रहे हैं, इस पर तत्काल रोक लगाई जाए और दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की जाये।
उन्होंने कहा कि इस वर्ष डेंगू का प्रसार बहुत अधिक हुआ है। काफी लोग इस गंभीर बीमारी से हताहत भी हुए हैं। विभाग का दायित्व है कि वह लोगों को तत्काल इस बीमारी से निजात दिलाए। उन्होंने कहा कि समाज से डेंगू का भय समाप्त करने के लिए आम जन में जागृति लाई जाए। इसके लिए सभी सार्वजनिक स्थलों, स्कूलों, अस्पतालों एवं अन्य महत्पूर्ण स्थलों पर डेंगू की रोकथाम से संबंधित होर्डिंग लगाई जाए।

Pin It