डायल 100 से बदलेगा पुलिस का चेहरा

योजना की विशेषता यह है कि एक ही सेंटर पर बैठकर सीसीटीवी कैमरे से पूरे प्रदेश की निगरानी की जा सकेगी। सीसीटीवी कैमरे के कंट्रोल रूम बाइ एयर चौबीस घंटे ऑनलाइन रहेंगे। पुलिस न केवल चौकन्नी रहेगी बल्कि वह फोन मिलते ही वारदात स्थल का लोकशन लेकर कम समय में पहुंचने में समक्ष होगी।

sajnaysharmaसपा सरकार ने आम आदमी की सुरक्षा का पक्का बंदोबस्त किया है। अपराधों पर लगाम लगाने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपनी महत्वाकांक्षी योजना डायल 100 की शुरूआत की है। यह योजना पुलिस का परंपरागत चेहरा बदल देगी। पुलिस अब हर संकट की घड़ी में जनता के साथ खड़ी रहेगी। यह सेवा प्रदेश के 11 जिलों में प्रारंभ हो गई है। डायल 100 योजना से न केवल अपराधियों पर शिकंजा कसा जा सकेगा बल्कि मुसीबत में फंसे व्यक्ति को मौके पर तत्काल मदद मिल सकेगी। फोन पर सूचना मिलने के महज बीस मिनट के अंदर पुलिस मौके पर पहुंच जाएगी। इसमें सबसे अच्छी बात यह कि जब तक पीडि़त की ओर से फीड बैक नहीं मिल जाएगा, यह प्रक्रिया जारी रहेगी। योजना की विशेषता यह है कि एक ही सेंटर पर बैठकर सीसीटीवी कैमरे से पूरे प्रदेश की निगरानी की जा सकेगी। सीसीटीवी कैमरे के कंट्रोल रूम बाइ एयर चौबीस घंटे ऑनलाइन रहेंगे। पुलिस न केवल चौकन्नी रहेगी बल्कि वह फोन मिलते ही वारदात स्थल का लोकशन लेकर कम समय में पहुंचने में समक्ष होगी। लोगों को किसी घटना की शिकायत दर्ज कराने के लिए थाने के चक्कर लगाने से भी निजात मिल जाएगी। दरअसल, प्रदेश में यह योजना को अमेरिका और सिंगापुर की तर्ज पर शुरू किया गया है। आज से ढाई दशक पहले तक इन दोनों देशों में क्राइम का ग्राफ काफी ऊंचा था। यहां संगीन वारदातें आए दिन हुआ करती थीं। लिहाजा वहां अपराधों पर नियंत्रण लगाने के लिए स्पेशल पुलिस सर्विस शुरू की गई। इसके तत्काल परिणाम दिखे। अमेरिका में आज 6 हजार से अधिक सेंटर चलते हैं। जहां चौबीस घंटे पुलिस मुश्तैद रहती है और एक काल पर मिनटों में मौके पर पहुंच जाती है। हालांकि दुनिया की सबसे स्मार्ट कही जाने वाली स्कॉटलैंड की पुलिस महज पांच मिनट में घटनास्थल पर पहुंच जाती है। डायल 100 का एक अहम पक्ष और है। इससे हादसों के दौरान मरने वालों की संख्या में कमी आएगी। गौरतलब है कि पिछले साल प्रदेश में हुए हादसों में सत्रह हजार से अधिक लोग असमय काल के गाल में समा गए थे। लेकिन इसमें वे भी शामिल है, जिन्हें यदि समय पर इलाज मिल जाता तो उनकी जिंदगी बचाई जा सकती थी। सरकार की इस योजना से हादसे के शिकार हुए कई लोगों की जिंदगियां बच सकेंगी। उम्मीद है सरकार की यह योजना परवान चढ़ेगी।

Pin It