डायल 100 पर फोन कर मौके पर पहुंचे आईजी

सतर्कता की जांच की अधिकारियों को सतर्क रहने के दिए निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ जोन ए सतीश गणेश ने मंगलवार दोपहर डायल 100 की कार्यप्रणाली व उनकी कार्यकुशलता की समीक्षा की। उन्होंने अपने पीआरओ के जरिए अपने निजी फोन से 100 नम्बर पर एक निश्चित स्थान पर दो कार सवारों के आपस में झगड़ा करने की सूचना दी।
कंट्रोल रूम से सूचना के बाद आईजी खुद मौके पर पहुंचे और अधिकारियों की कार्यप्रणाली परखी। पड़ताल के दौरान आईजी ने पीआरवी में नियुक्त अधिकारी व कर्मचारीगण को साफ वर्दी पहनने व प्रतिदिन शेव करके ड्यूटी पर आने व संबंधित थाने से असलहा प्राप्त करने के निर्देश दिए। उन्होंने गाड़ी के कमांडर को अपने पेट्रोलिंग रूट चार्ट की प्रति एक फाइल फोल्डर में सुरक्षित तरीके से तैयार रखने को कहा। यह हिदायत भी दी कि वे प्रत्येक घंटे अपनी पीआरवी में लगे उपकरणों (एमटीडी, आरटी सेट मोबाइल फोन) आदि की सक्रियता की जांच करते रहें ताकि वे उपकरण सही तरह से काम करते रहें। इससे उन्हें तत्काल घटना की सूचना प्राप्त हो सकेगी। सभी पीआरवी मोबाइल को अपने बीट में आने वाले वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक, क्षेत्राधिकारी , प्रभारी निरीक्षक व थानाध्यक्ष के मोबाइल नंबर भी रखने को कहा गया ताकि आवश्यकता पडऩे पर उन्हें घटना की जानकारी दी जा सके। पुलिस महानिरीक्षक ने पीआरवी के चालकों व कमाण्डरों को निर्देशित किया कि वे किसी भी दशा में अपने वाहन को छोडक़र गैर जिम्मेदाराना व्यवहार नहीं करेंगे। किसी अधिकारी व कर्मचारी की लापरवाही बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

Pin It