ज्योति इन्वॉयरोटेक की अब उल्टी गिनती शुरू जल्द किया जाएगा ब्लैकलिस्ट

  • सीएंडडीएस 30 नवंबर तक किसी नई कंपनी को देगी इसकी जिम्मेदारी
  • दो नई कंपनियों के ऑफर भी मिले नगर निगम को

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ । ज्योति इन्वॉयरोटेक के खिलाफ बार-बार कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति और नोटिस का सिलसिला फिलहाल अब खत्म होने की कगार पर है। शहर में कूड़ा उठाने का जिम्मा संभालने वाली निजी कंपनी इस कपंनी को जल्द ही ब्लैकलिस्ट किया जाएगा। कंपनी की बार-बार शिकायत मिलने के बाद यह कार्रवाई की जा रही है। जल निगम की सीएंडडीएस 30 नवंबर तक किसी नई कंपनी को यह जिम्मेदारी देगी। शिवरी प्लांट के संचालन के अलावा डोर टू डोर कलेक्शन के लिए दो कंपनियों के ऑफर भी जल निगम और नगर निगम को मिले हैं।
नगर निगम और जल निगम के अधिकारियों की संयुक्त बैठक भी कूड़ा प्रबंधन के मुद्दे पर रही। नगर आयुक्त उदयराज सिंह ने कहा कि जल निगम की इकाई सीएंडडीएस के अधिकारियों को साफ तौर पर कूड़े के निस्तारण के अलावा डोर टू डोर कलेक्शन के काम को प्रभावी बनाने के लिए कहा है। बैठक में कंपनी बदलने और मौजूदा सर्विस प्रोवाइडर ज्योति इन्वॉयरोटेक को ब्लैकलिस्ट करने पर भी सहमति बनी है। मैजूदा कंपनी के खिलाफ जल निगम खुद कार्रवाई करेगा। ऐसे में दिसंबर से शहर के सफाई का जिम्मा नई कंपनी संभाल सकती है। नगर आयुक्त ने कहा कि हमने जल निगम को साफ तौर पर 100 प्रतिशत क्षमता से काम कराने के लिए कहा है। ऐसे में उनके पास स्वयं काम कराने या कंपनी बदलने का विकल्प है।

Pin It