जनेश्वर मिश्र पार्क पर दाग लगा रहा कूड़ा ट्रांसफर स्टेशनजनेश्वर मिश्र पार्क पर दाग लगा रहा कूड़ा ट्रांसफर स्टेशन

  • गोमतीनगर का कूड़ा कई दिनों तक डंप होने से आस-पास के क्षेत्रों में फैल रही बदबू लोग परेशान
  • अंतरराष्ट्रीय पार्क में रोजाना पहुंचते हैं हजारों पर्यटक

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। ज्योति इन्वॉयरोटेक पर लगाम लगाने में नगर निगम नाकाम साबित हो रहा है। इतनी खामियों के बाद भी अधिकारी सिर्फ चेतावनी व नोटिस देने में व्यस्त हैं। बात की जाए गोमती नगर स्थित ट्रांसफर स्टेशन की, तो फिलहाल कई दिनों से यहां कूड़ा ट्रांसफर का काम धीमी गति से हो रहा है। इसलिए कूड़े सडऩे और उसकी वजह से आसपास के क्षेत्रों में भयंकर बदबू फैल रही है। यहां से चंद कदमों की दूरी पर बने एशिया के सबसे बड़े पार्क जनेश्वर मिश्र पार्क तक भी बदबू पहुंच रही है। इस वजह से लोगों का जीना दूभर हो गया है।
गौरतलब है कि नगर निगम की योजना थी कि ट्रांसफर स्टेशन से गोमती नगर व आसपास क्षेत्र से यहां कूड़ा डंप होगा और कूड़े को मशीनों के जरिए सुखाया जाएगा और नियमित रूप से कूड़ा ट्रकों के जरिए शिवरी प्लांट भेजा जाएगा। फिलहाल यह काम नियमित नहीं हो रहा है। ज्योति एंवायरोटेक प्राइवेट लिमिटेड नगर निगम को पूरी तरह से ठेंगा दिखाने का काम रहा है। कूड़ा प्रोसेस न होने से प्लांट के भीतर आवारा मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है। खासबात है कि अंतरराष्टï्रीय स्तर का पार्क होने के कारण यहां नियमित रूप से हजारों लोग आते हैं, लेकिन पार्क से पहले उन्हें इस गंदगी से होकर गुजरना पड़ता है। अगर नियमित रूप से यहां से कूड़े का निस्तारण कर लिया जाए तो ऐसी स्थिति न उत्पन्न हो।

Pin It