कश्मीर में सेना पर आतंकी हमला, दो जवान शहीद

  • नागरोटा में आतंकियों ने आर्मी की 16वीं कोर के हेडक्वार्टर पर बम से किया हमला
  • सांबा सेक्टर में संदिग्ध आतंकियों ने पूछताछ के दौरान बीएसएफ के जवानों पर की फायरिंग
  • चार आतंकी ढेर, मुठभेड़ अभी भी जारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
11नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के नागरोटा में आज तडक़े दो जगहों पर आतंकी हमला हुआ, जिसमें आतंकियों ने सिक्युरिटी फोर्सेस को निशाना बनाया। आतंकियों ने सुबह करीब 5.40 बजे आर्मी की 16वीं कोर के हेडक्वार्ट पर बम से हमला कर दिया। इसमें दो जवान शहीद हो गए हैं। आतंकियों ने अत्याधुनिक हथियारों के साथ कैम्प में घुसने की कोशिश भी की। हालांकि वे कामयाब नहीं हो पाए। जवान आतंकियों की फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं। अब तक नागरोटा में चार आतंकियों के मारे जाने की भी सूचना है। बताया जा रहा है कि आतंकियों की तादाद आधा दर्जन के करीब है। वहीं दूसरा हमला बीएसएफ के जवानों पर सांबा सेक्टर में हुआ। इसलिए आर्मी ने इलाके को घेर लिया है। एहतियात के तौर पर आस-पास के इलाकों को खाली करवाने के साथ ही स्कूलों में भी छुट्टी करा दी गई है। हालांकि सेना की तरफ से दोनों जवानों और आतंकियों के मारे जाने की आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।
हमले के बाद आर्मी ने यहां 20 किलोमीटर इलाके को घेर लिया है। यहां के स्कूलों और दुकानों को बंद करा दिया गया। इस हमले में आर्मी के दो जवान घायल हो गए हैं। बाद में इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। इन जवानों के शहीद होने की सेना की तरफ से आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। बताया जा रहा है कि आतंकियों ने यूनिट के पीछे दीवार के गेट पर खड़े संतरी को पहले टारगेट किया। वहां ग्रेनेड मार कर अफरा-तफरी पैदा करने की कोशिश की। यह सेना की 16वीं कोर का हेडक्वार्टर है। इससे आसपास घने जंगल भी हैं। इसलिए आतंकियों को छिपकर हमला करने के लिए काफी जगह मिली है।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हमला करने वाले आतंकियों ने सेना की वर्दी पहन रखी थी। यह इलाका जम्मू-श्रीनगर हाईवे से सटा है, इसलिए सेना जल्द से जल्द एनकाउंटर खत्म करना चाहती है। वहीं सांबा सेक्टर में आतंकियों ने बीएसएफ जवानों को निशाना बनाया।

ममता बनर्जी के साथ सीएम अखिलेश यादव ने किया नोटबंदी का विरोध

  • समाजवादी पार्टी के साथ तृणमूल कांग्रेस की जुगलबंदी दिखी धरने में
  • आम आदमी पार्टी भी आई समर्थन में

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नोटबंदी के खिलाफ आयोजित धरने में सपा और तृणमूल कांग्रेस की जुगलबंदी देखने को मिली। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज प्रदेश की राजधानी लखनऊ में धरना दिया। प्रदेश में सत्तारूढ़ सपा ने तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता के धरना प्रदर्शन का समर्थन किया है। इसमें सपा एमएलसी आनंद भदौरिया, सुनील साजन और प्रदेश के कैबिनेट मंत्री अरविंद सिंह गोप समेत कई अन्य नेताओं ने शिरकत की। वहीं आम आदमी पार्टी ने भी विरोध प्रदर्शन का समर्थन किया है।
तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी ने नोटबंदी के खिलाफ राजधानी के 1090 चौराहे पर मोदी सरकार के खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया। ममता सोमवार की शाम लखनऊ पहुंच गई थीं। यहां अमौसी एयरपोर्ट पर उनका स्वागत मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने किया था। नोटबंदी पर ममता ने मोदी को राजनीति से खदेडऩे का संकल्प लेते हुए कहा कि मोदी जैसे तानाशाह की राजनीति में कोई जगह नहीं है। कोई भी फैसला पर्याप्त तैयारी के बाद लिया जाना चाहिए, नहीं तो जनता के लिए इसके नतीजे भयावह होते हैं। वहीं, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि नोटबंदी से आम आदमी, किसान और मजदूर परेशान है। लोग कतार में खड़े होने को मजबूर है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से पिछले दिनों मुलाकात कर उन्हें लोगों की समस्या से भी अवगत कराया था।

सपा कार्यकर्ता आपस में भिड़े

नोटबंदी के खिलाफ तृणमूल के धरने में पहुंचे सपा कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। सपा कार्यकर्ता ने आगे खड़े होने को लेकर विवाद किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने मुलायम यूथ ब्रिगेड के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमिताभ बाजपेयी के साथ धक्का-मुक्की की।

 

कोलंबिया में फुटबाल प्लेयर्स को ले जा रहा प्लेन क्रैश

  • अधिकारियों के मुताबिक 72 लोग थे प्लेन में सवार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कोलंबिया में फुटबाल प्लेयर्स को ले जा रहा प्लेन क्रैश हो गया। इस प्लेन में कुल 72 लोग सवार थे। न्यूज एजेंसी से मिली जानकारी के मुताबिक प्लेन ने कोलंबिया के जोश मारिया कोरडोवा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी। हादसा कोलंबिया में ही ला यूनिट की घाटी में हुआ है। इस बात की पुष्टि अधिकारियों ने कर दी है। लेकिन प्लेन में सवार लोगों में से कितने लोगों की मौत हुई है। दुर्घटना में कितने लोग घायल हुए हैं। इसकी अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। उधर साउथ अमेरिकन फुटबाल कन्फेडरेशन ने टुर्नामेंट कैंसिल कर दिया है।

Pin It