‘ऐ दिल है मुश्किल’ का रास्ता साफ

  • राज ठाकरे ने प्रेस कांफ्रेंस में की घोषणा
  • दीपावली पर रिलीज होगी फिल्म

captureमुंबई। फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ की रिलीज को लेकर एमएनएस के आगे बॉलीवुड को झुकना पड़ा है। इसी के साथ फिल्म की रिलीजिंग को लेकर मुश्किलें भी खत्म हो गई है। एमएनएस के अध्यक्ष राज ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि अब उनकी पार्टी इस फिल्म की रिलीज का विरोध नहीं करेगी। इसलिए दीपावली पर फिल्म रिजील करने की घोषणा कर दी गई है।
आज सुबह मुख्यमंत्री देवेंद्र फडऩवीस के साथ प्रोड्यूसर्स गिल्ड, फिल्म के डॉयरेक्टर करन जौहर और एमएनएस के राज ठाकरे की बैठक हुई है। राज ठाकरे ने कहा कि ‘मुख्यमंत्री ने हमारी तीन मांगो को मान लिया है। हमने इस शर्त पर विरोध खत्म किया है कि अब प्रोड्यूसर्स पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम नहीं करेंगे।’ निर्माता सिद्धार्थ रॉय कपूर, साजिद नाडियावाला और फॉक्स स्टार स्टूडिया के विजय सिंह भी इस मीटिंग में मौजूद थे। इस मुलाकात के बाद प्रोड्यूसर्स गिल्ड के अध्यक्ष मुकेश भट्ट ने कहा, ‘हमने फिल्म की रिलीज से संबंधित दुर्भाग्यपूर्ण घटनाक्रम की चर्चा की। मैंने पूरे मुद्दे पर फिल्म उद्योग की भावना साझा की। हम पहले भारतीय हैं और फिर हमारा कारोबार आता है।’ भट्ट ने बताया कि यह सकारात्मक थी और ये फिल्म 28 अक्टूबर को ही रिलीज होगी। भट्ट ने बताया, ‘मैंने फडऩवीस को आश्वास्त किया है कि प्रोड्यूसर्स गिल्ड आगे से पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम नहीं करेगा।’ साथ ही मुकेश भट्ट ने कहा कि फिल्म की शुरुआत मे उड़ी हमले के शहीदों के लिए स्लेट चलेगी और उन्हें श्रद्धांजलि दी जाएगी। इसके अलावा फिल्म के प्राफिट का कुछ पैसा शहीद वेलफेयर फंड में भी दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रोड्यूसर्स गिल्ड पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम नहीं करने के विषय पर प्रस्ताव पारित करने के लिए बैठक बुलाएगी। इस प्रस्ताव की प्रति सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय एवं मुख्यमंत्री को भेजी जाएगी। आपको बता दें कि पाकिस्तानी एक्टर फवाद खान की वजह से ‘ऐ दिल है मुश्किल’ फिल्म का एमएनएस लगातार विरोध कर रही थी। इस विरोध के बाद फिल्म के डायरेक्टर करन जौहर ने एक वीडियो के जरिए फिल्म का विरोध ना करने की अपील की थी। करन जौहर वीडियो में ये कहते नजर आए, ‘मेरी देशभक्ति पर सवाल उठाए जा रहे हैं लेकिन मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि मेरे लिए सबसे पहले देश है। इस फिल्म के लिए 300 भारतीयों ने मेहनत की है, जिसके बाद फिल्म तैयार हुई है। अगर फिल्म को रोका जाता है तो सभी लोगों के साथ नाइंसाफी होगी।’

Pin It