एकता सभा कर आरक्षण पर केंद्र सरकार को चेताया

  • पदोन्नति में आरक्षण के विरोध में 11 को रैली

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लोकसभा के शीतकालीन सत्र में पदोन्नति में आरक्षण संबंधी बिल के पास होने की आशंका से घिरे आरक्षण विरोधियों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है। सोमवार को पूरे प्रदेश में एकता सभा का आयोजन किया गया। आरक्षण विरोधियों ने केंद्र सरकार को चेताया कि बिल पास होने पर उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। इसके विरोध में 11 नवंबर को रैली का भी आयोजन होगा।
सर्वजन हिताय संरक्षण समिति के अध्यक्ष शैलेंद्र दुबे ने बताया कि केन्द्र सरकार ने संसद के मानसून सत्र के आखिरी दिन पार्लियामेंटरी पैनल की रिपोर्ट दोनों सदनों में रख दी है। रिपोर्ट में पदोन्नति में आरक्षण देने के लिए 117 वें संविधान संशोधन बिल को तत्काल पारित कराने की जोरदार अनुशंसा की है। संसद का शीतकालीन सत्र 16 नवम्बर से शुरू हो रहा है। जिसमें इस बिल को पारित कराये जाने की संभावना है। जिससे सामान्य एवं अन्य पिछड़ी जाति के कार्मिकों व शिक्षकों में भारी गुस्सा है। इसके खिलाफ आरक्षण विरोधियों ने पूरे सूबे में एकता दिवस आयोजित कर अपना विरोध प्रकट किया है। राजधानी लखनऊ सहित समस्त जनपदों एवं परियोजना मुख्यालयों पर आयोजित सभाओं में सभी विभागों के कर्मचारी, अधिकारी एवं शिक्षकों ने पदोन्नति में आरक्षण देने की केन्द्र सरकार की कोशिश के विरोध में निर्णायक संघर्ष का संकल्प लिया। 11 नवंबर को लखनऊ में विशाल रैली का आयोजन किया गया है।

Pin It