आम आदमी तक पहुंचने को बेचैन है भाजपा

पार्टी यूपी के मन की बात के जरिए जनता में बना रही पैठ 

गांवों और शहरों में कराए जा रहे अन्य कार्यक्रम

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
captureलखनऊ। लोकसभा में अपनाए गए फार्मूले के सहारे भाजपा विधानसभा चुनाव में भी 2014 के इतिहास को दोहराने की फिराक में है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सफल ‘चाय पर चर्चा’ व ‘वीडियो कान्फ्रेंसिंग’ अभियान के तर्ज पर ‘यूपी के मन की बात’ के जरिए पार्टी लोगों तक पहुंचने का प्रयास कर रही है। इसके अलावा अन्य कई छोटे-छोटे कार्यक्रमों के जरिए भाजपा एक साथ कई विधानसभा क्षेत्रों के अलग-अलग इलाकों में एक साथ अपनी पैठ बनाने का प्रयास कर रही है। कम खर्चे में व्यापक प्रचार-प्रसार की शैली से विधानसभा चुनाव में मजबूत विकल्प के रूप में उभरने के लिए रणनीतिकार दिन रात एक किए हैं।
लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा के रणनीतिकारों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आम जनता से जोडऩे के लिए चाय पर चर्चा व वीडियो कान्फें्रसिंग जैसे सशक्त माध्यमों का सहारा लिया था। ये कार्यक्रम बेहद सफल रहे। इसने चुनाव के दौरान विपक्षी दलों को जबरदस्त शिकस्त दी थी। प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने मन की बात कार्यक्रम चलाया। इस कार्यक्रम ने भी काफी सुर्खियां बटोरी। लिहाजा भाजपा के रणनीतिकारों ने इस फार्मूले को फिर अपनाने का निर्णय लिया है। यूपी में 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पूर्व केंद्र सरकार की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए जहां हाईटेक रथों को गांवों की ओर दौड़ाया गया है वहीं दूसरी ओर आकांक्षा पत्र के जरिए लोगों से विकास के लिए सुझाव मांगकर उनकी नब्ज टटोली जा रही है। वरिष्ठï भाजपा नेता यूपी के मन की बात के जरिए वर्तमान प्रदेश सरकार की नाकामियों को उजागर कर भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने का प्रयास कर रहे हैं। वहीं, पिछले दिनों भाजपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष ने प्रदेश की राजधानी लखनऊ के युवाओं से अपील की है कि वे बेहतर उपलब्धियों के आधार पर ही सरकार के लिए राजनीतिक दलों का चयन करें। साथ ही नोटबंदी को लेकर विपक्ष द्वारा की जा रही आलोचनाओं को खारिज कर दिया है।

अब तक करीब दो लाख लोगों ने दिए सुझाव

भाजपा ने सरकार बनने पर प्रदेश का विकास लोगों की आकांक्षा के अनुरूप करने की घोषणा की है। जिसके लिए आम जन से पत्रों, टेलीफोन काल व सोशल साइट्स के जरिए सुझाव मांग जा रहे हैं। सुझाव देने के लिए पार्टी द्वारा जारी किए गए मोबाइल नंबर पर अब तक करीब दो लाख लोगों ने मिस्ड काल कर खुद को पार्टी के इस अभियान से जोड़ा है। अभियान को मिल रही सफलता ने भाजपा उत्साहित है। आकांक्षा पेटी में अब तक करीब दो लाख सुझाव पत्र पडऩे के दावे किए जा रहे हैं। रथ पर रखे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कटआउट के साथ करीब एक लाख लोगों ने सेल्फी खिंचवाने का दावा किया जा रहा है। इससे प्रधानमंत्री की लोकप्रियता आंकी जा रही है।

नोटबंदी का फैसला न पड़े उल्टा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा पांच सौ व हजार के नोट बंद करने के फैसले से आमजन को हो रही दिक्कतों ने पार्टी के रणनीतिकारों की धुकधुकी तेज कर दी है। कहीं ये फैसला उल्टा न पड़ जाए इसके लिए बचाव के रास्ते निकाले जा रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने जहां सांसदों से बैंक व एटीएम में लाइन में लगे लोगों की मदद करने को कहा है वहीं प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने सभी जिला अध्यक्षों व संगठन के पदाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे ऐसे लोगों की हरसंभव मदद करें। राष्टï्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी इसे आगे बढ़ाते हुए भाजपाइयों से आमजन को हो रही दिक्कतों को दूर करने के लिए अपनी तरफ से आवश्यक कदम उठाने को कहा है।

Pin It