अवैध डेयरियों के खिलाफ निगम प्रशासन कर रहा हीलाहवाली

  • नगर आयुक्त के आदेश के बाद भी कार्रवाई नहीं कर रहे अधिकारी
  • जनरैलगंज में डेयरियों की गंदगी से जनता परेशान

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी में अवैध डेयरियों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है लेकिन जिम्मेदार अधिकारी अवैध डेयरियों पर कार्रवाई करने से बच रहे हैं। हालात यह हैं कि नगर आयुक्त के लिखित आदेश के बावजूद जिम्मेदार अधिकारी हाथ पर हाथ रखे बैठे हैं।
बालागंज स्थित जनरैलगंज के साउथ मोहल्ले में लम्बे समय से कई डेयरियां संचालित है, जिसके चलते क्षेत्र में गंदगी और नाली चोक की समस्या बनी हुई है। समस्या को लेकर जब जनरैलगंज साउथ मोहल्ला विकास समिति के लोगों ने लगभग 6 माह पूर्व नगर आयुक्त को समस्या के समाधान के लिए प्रार्थना पत्र दिया था, तब नगर आयुक्त ने लोागों को जल्द ही अवैध डेयरियों को हटवाने का आश्वासन भी दिया। इस मामले में पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश भी दिये गये। बावजूद इसके आज तक डेयरियां नहीं हटाई गई हैं। समिति के महामंत्री धमेंन्द्र सिंह ने बताया कि जनरैलगंज साउथ मोहल्ले में एसजीएम स्कूल के आस-पास भैसों की कई डेयरियां हैं, जिसकी वजह से अक्सर दुर्घटनायें होती रहती हैं। बच्चे सडक़ पर अकेले निकलने से डरते हैं। यही नहीं डेरियों के कारण क्षेत्र में गंदगी का अम्बार लगा है। गन्दगी से उठती दुर्गन्ध के कारण लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है। श्री सिंह के अनुसार समिति के लोगों ने मामले को लेकर नगर निगम में लिखित शिकायत की लेकिन अधिकारी समस्या पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। जबकि नगर आयुक्त ने शिकायत पत्र पर लिखित आदेश किये थे। समिति के लोगों का कहना है अगर जल्द ही नगर निगम कोई कार्रवाही नहीं करेगा तो समिति के लोग नगर आयुक्त का घेराव करेंगे। मामले को लेकर पशु चिकित्सा अधिकारी अरविन्द राव को फोन किया गया लेकिन उनसे सम्पर्क नहीं हो सका।

Pin It