अखिलेश के सपनों का एक्सप्रेस-वे शुरू

पहली बार तीन लड़ाकू विमान उतरे देश के सबसे बड़े एक्सप्रेस-वे पर

देश के सबसे बड़े एक्सप्रेस-वे को रिकॉर्ड समय में बनाने के लिए सीएम ने किया जमीन आसमान एक
देश का पहला एक्सप्रेस-वे जिसमें जमीन अधिग्रहण के लिए किसी किसान ने नहीं किया विरोध
एक्सप्रेस-वे पर उतरे लड़ाकू विमान ने चार चांद लगा दिये एक्सप्रेस-वे के उद्ïघाटन समरोह में

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
21-nove-page-11लखनऊ। सीएम अखिलेश यादव के सबसे बड़े ड्रीम प्रोजेक्ट आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का आज उद्ïघाटन सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने किया। देश के सबसे बड़े एक्सप्रेस-वे को रिकॉर्ड समय 23 महीने में बनाकर तैयार किया गया। सबसे बड़ी खासियत यह रही कि यह देश का पहला एक्सप्रेस-वे है जिसमें किसानों की जमीन के अधिग्रहण के बदले उन्हें चार गुना मुआवजा दिया गया, जिसके कारण एक भी विरोध की शिकायत नहीं आई। इस मौके पर सीएम ने कहा कि वे आने वाले समय में लखनऊ-बलिया एक्सप्रेस-वे का उद्ïघाटन भी करेंगे। परिवार में विवाद के बाद पहली बार आज यादव परिवार के सभी लोग बहुत दिनों बाद आज सौहार्दपूर्ण माहौल में एक साथ दिखाई दिये।
यह एक्सप्रेस-वे सीएम अखिलेश यादव के लिए इसलिए भी महत्वपूर्ण था क्योंकि चुनाव से पहले वे यह संदेश देना चाहते थे कि विकास के मामले में वे सबसे आगे हैं और इसका उदाहरण यह एक्सप्रेस-वे है। जब इस एक्सप्रेस-वे की शुरुआत सीएम अखिलेश यादव ने की थी तो सब कहते थे कि यह संभव नहीं है कि इस सरकार में यह एक्सप्रेस-वे बन जाये। मगर सीएम अखिलेश यादव ने इस एक्सप्रेस-वे को रिकॉर्ड समय में बनाने के लिए कमर कसी और यूपीडा के चेयरमैन नवनीत सहगल ने इसे बनाने के लिए दिन रात एक कर दिया।
कार्यक्रम में बोलते हुए सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने कहा कि यूपी सरकार से ज्यादा विकास किसी ने नहीं किया। उन्होंने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे को चार साल में बनना चाहिए मगर यह दो साल में ही बनकर तैयार हो गया, यह सरकार की बड़ी उपलब्धि है।
सपा के राष्टï्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने कहा कि यह एक्सप्रेस-वे इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि यह आपातकाल में वायुसेना के भी काम आ सकता है। उन्होंने कहा कि यह अद्ïभुत समय है कि जब नेता जी रक्षा मंत्री थे तो सुखोई विमान खरीदे गये थे और आज इन विमानों को यहां उतारा गया।
सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा कि नेता जी के सपनों को सीएम अखिलेश ने पूरा किया। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव बेहद लोकप्रिय हैं। कार्यक्रम समारोह स्थल पर सीएम अखिलेश यादव के परिजनों के अलावा बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

रामगोपाल के पैर छुए शिवपाल ने

कल से ही यह कयास लगाया जा रहा था कि शिवपाल यादव इस कार्यक्रम में आयेंगे या नहीं। मगर शिवपाल न सिर्फ कार्यक्रम में आये बल्कि मंच पर पहले से मौजूद बड़े भाई रामगोपाल यादव के पैर भी छुए। बदले में रामगोपाल ने भी उन्हें गले से लगाया। पिछले दिनों दोनों भाइयों ने एक-दूसरे के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली थी। आज इस मिलन को लेकर कार्यकर्ता चर्चा करते नजर आये।

लड़ाकू जहाजों ने रोमांचित कर दिया कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों को

जब एक्सप्रेस-वे पर तीन सुखोई विमान उतरे तो लोगों की सांसे रुक गईं। ग्वालियर से उड़ान भरे इन विमानों ने एक्सप्रेस-वे को टारगेट किया था। ध्वनि की गति से दुगनी रफ्तार अर्थात 2495 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से सबसे पहले सुरेंद्र मलिक फिर प्रजांत और आखिर में प्रमिल ने जब अपना विमान लैंड किया तो लोगों ने ताली बजाकर इनका स्वागत किया। जिस स्क्वाडन के यह विमान हैं उसमें 1942 से अब तक की सभीबड़ी लड़ाइयों में भाग लिया है। यह पहला मौका था कि जब इतने जहाज किसी राजमार्ग पर उतरे।

सबने याद किया नवनीत सहगल को

इस कार्यक्रम में मौजूद लगभग सभी लोग नवनीत सहगल को याद करते नजर आये। सबने कहा कि ये नवनीत सहगल की मेहनत का ही नतीजा है कि जो रिकॉर्ड समय में ये एक्सप्रेस-वे बनकर तैयार हो गया। सबने कहा कि आज कितना खराब लग रहा है कि जिस शख्स ने एक्सप्रेस-वे बनाने में सबसे ज्यादा मेहनत की आज वही यहां मौजूद नहीं है।

Pin It