हॉस्टल में छापेमारी से छात्रों में हडक़म्प

महमूदाबाद व एनडी हॉस्टल में भी पांच कमरे हुए सील
Captureलविवि हॉस्टलों में देर रात तक हुई छापेमारी में 11 कमरे सील

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ । छात्रावास में छात्रों के बीच कई बार लड़ाई की खबरे आने के बाद आखिर प्रॉक्टोरियल विभाग उपद्र्रवी छात्रों पर शिकंजा कसने के लिए टीम ने दिनभर छापामार अभियान चलाया। कैंपस में शांति व्यवस्था को खराब करने वाले 11 उपद्रवी छात्रों के कमरे सील कर दिए गए। इन कमरों में बाहरी छात्रों के शरण लेने और वर्चस्व की लड़ाई को लेकर बवाल करने के आरोपी छात्र रह रहे थे।
प्रॉक्टर प्रो. मनोज दीक्षित की टीम ने कल दिनभर छापामार अभियान चलाया। छात्रावासों में ताबड़तोड़ हुई छापेमारी से छात्रों में खलबली मच गई। इस बीच बाहरी छात्र हॉस्टल छोडक़र भाग गए। उपद्रवी छात्र भी सकते में आ गए। कुलपति प्रो. एसबी निम्से ने सख्त निर्देश दिए हैं कि जो भी कैंपस में शांति व्यवस्था में बाधा बने उसे तत्काल निष्कासित कर दिया जाए। अनुशासन बनाने के लिए कोई भी समझौता नहीं किया जाएगा।
रात करीब दस बजे सुभाष हॉस्टल में प्रॉक्टर प्रो. मनोज दीक्षित दलबल सहित पहुंच गए। यहां पर उन्होंने छात्रों के आइकार्ड चेक किए और इसके बाद यहां पर कमरा नंबर 52, 54, 60, 72 व 80 को सील कर दिया। इन कमरों से छात्र गायब थे और इन्हीं कमरों में अपराधी छात्र शरण लेते हैं। फिलहाल इन्हें सील कर दिया गया। इसके अलावा प्रॉक्टोरियल विभाग की टीम सेंट्रल मेस में ठेकेदार द्वारा किए गए अवैध कब्जे और यहां पर मिले नशेडिय़ों को भगाया गया। जो कि यहां पर बैठे स्मैक पी रहे थे। इससे पहले सुबह करीब 11 बजे कुलपति प्रो. एसबी निम्से ने प्रॉक्टोरियल बोर्ड की टीम को निर्देश दिए कि वह हॉस्टलों में रह रहे बाहरी व उपद्रवी छात्रों पर शिकंजा कसें। उन्हें प्रॉक्टर प्रो. मनोज दीक्षित ने पूरी रिपोर्ट सौंपी कि आखिर कहां पर स्थिति खराब है।

Pin It