हार से मिलता है जीतने का जज्बा: संजय शर्मा

Capture 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। हार से निराश होने की अवश्यकता नही है। हार आपको अपने लक्ष्य की ओर बढऩे के लिए आपके इरादे को और मजबूत करती है। इब्राहम लिंकन भी कई बार हारे थे लेकिन उन्होंने हार नही मानी जिसका नतीजा यह हुआ की वह अमेरिका के राष्टï्रपति बने। इससे यही सीख मिलती है कि हार से जीतने का जज्बा पैदा होता है।
उक्त बातें लखनऊ पब्लिक स्कूल एवं कॉलेजेज की अन्तर शाखाओं विनम्र खण्ड, गोमती नगर में हिन्दी वाद-विवाद प्रतियोगिता में लोगों को संबोधित करते हुए बतौर मुख्य अतिथि 4पीएम के संपादक संजय शर्मा ने कही। उन्होंने छात्रों से अपने जीवन के अनुभवों को बांटा तथा छात्रों का हौसला अफजायी की। इस अवसर पर उन्होंने विजेता बच्चों को पुरस्कृत किया तथा उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। कार्यक्रम में निर्णायक मण्डल में पत्रकार आंचल अवस्थी, पत्रकार जिशान हुसैन रायनी, एमिटी यूनिवर्सिटी के आर.के. सिंह, शामिल रहे। इन सभी ने छात्र वक्ताओं की भाषा शैली तथा उनके विचारों को प्रोत्साहित किया।
प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को ग्रुप ‘ए’, ‘बी’, ‘सी’ एवं ‘डी’ भागों में विभाजित किया गया था। जिसमें गु्रप ‘ए’ से आम्रपाली योजना, हरदोई रोड शाखा के वेदान्श पाण्डेय तथा शिवेन्द्र प्रताप सिंह विजेता तथा शिवेन्द्र प्रताप सिंह को सर्वश्रेष्ठ वक्ता घोषित किया गया। ग्रुप ‘बी’ से आम्रपाली योजना, हरदोई रोड शाखा के देवांश पाण्डेय व अनुग्या सिंह विजेता तथा लखीमपुर खीरी शाखा के श्रेयश कुमार अग्रवाल को सर्वश्रेष्ठ वक्ता घोषित किया गया। गु्रप ‘सी’ से सहारा स्टेट्स, जानकीपुरम शाखा की स्मृति दास व आयशा नोमानी को विजेता तथा आनन्द नगर शाखा के राज तिवारी को सर्वश्रेष्ठ वक्ता घोषित किया गया। इसी प्रकार ग्रुप ‘डी’ से आनन्द नगर शाखा की श्रद्धा मिश्रा एवं स्वपनिल श्रीवास्तव को विजेता एवं श्रद्धा मिश्रा को सर्वश्रेष्ठ वक्ता घोषित किया गया। इस अवसर पर एम.एल.सी. कान्ति सिंह, डा. रुपाली पटेल, श्रीमती सुचित्रा चक्रवती, सहित अनेक शिक्षक एवं छात्र उपस्थित रहे।

Pin It