हाईटेक होगा सूचना विभाग ऑन लाइन जारी होंगे विज्ञापन

लंबित आरओ और बिलों की औपचारिकताएं, 25 जनवरी तक पूरा करने की अपील

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। यूपी का सूचना विभाग भी मुख्यमंत्री की तरह ही हाईटेक होने की तैयारी में है। अखबार, पत्रिकाओं में विज्ञापन जारी करने और उसके भुगतान को ऑन लाइन करने की पूरी तैयारी सूचना विभाग ने कर ली है, जल्दी ही इसका डिजिटलाइजेशन कर दिया जाएगा। इसके लिए सूचना विभाग का विज्ञापन पोर्टल तैयार किया जा रहा है। विज्ञापन को प्रकाशित कराने तथा उसके भुगतान का काम ऑन लाइन होने पर अखबार, पत्रिकाओं के सम्पादक, मुद्रक अथवा प्रकाशक को उनके मोबाइल पर एसएमएस से विज्ञापन के आरओ की जानकारी मिल जाएगी।
सूचना निदेशक आशुतोष निरंजन ने सोमवार को विज्ञापन पोर्टल की समीक्षा करते हुए यह जानकारी दी है। उन्होंने उसमें कुछ संशोधनों के निर्देश देने के बाद कहा कि जितनी जल्दी हो इस पोर्टल को चालू कर दिया जाए। इस पोर्टल के जरिए समाचार पत्र, पत्रिका के सम्पादक, मुद्रक अथवा प्रकाशक सीधे सूचना विभाग के पोर्टल से अपने आरओ स्वयं डाउनलोड कर लेंगे और इस पोर्टल पर जारी विज्ञापन को डाउनलोड कर प्रकाशित कर सकेंगे। उन्होंने आगे बताया कि इसी प्रकार भुगतान के लिए भी भुगतान के बिल भी उसी पोर्टल पर अपलोड करेंगे और पेमेंट सीधे उनके खाते में पहुंचा दिया जाएगा। भुगतान के लिए ऑन लाइन बिल अपलोड करने के बाद इसकी एक प्रति एक निश्चित अवधि में सूचना निदेशालय में भी प्रस्तुत करनी होगी। निरंजन ने बताया कि सभी समाचार पत्र पत्रिकाओं को इस विज्ञापन पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराना होगा, जिसमें उन्हें अपना विवरण भरना होगा। इसमें मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और बैंक अकाउंट की डिटेल होंगी। डीएवीपी, यूपीआईडी में विज्ञापन के लिए सूचीबद्ध समाचार पत्र, पत्रिकाओं के लिए भी इस पोर्टल में एक आप्शन दिया जाएगा। जो विवरण रजिस्ट्रेशन में दिया जाएगा उसी के अनुसार विज्ञापन से सम्बंधित जानकारी भी एसएमएस से भी जाएगी।

तय समय में करें भुगतान
सूचना निदेशक ने अनुरोध किया है कि सूचना विभाग के विज्ञापन पोर्टल के चालू होने से पहले पुराने बिल तथा लंबित आरओ की सभी औपचारिकताएं पूरी करने के लिए यदि कोई प्रपत्र विभाग में जमा करना हो, तो आगामी 25 जनवरी तक जरूर जमा कर दें। उन्होंने सभी समाचार पत्र/पत्रिकाओं के स्वामियों से अपील की है कि विज्ञापन को ऑन लाइन करने की प्रक्रिया में सहयोग दें, ताकि विज्ञापन के लिए समाचार पत्र, पत्रिकाओं के सम्पादक अथवा प्रकाशक आदि को सूचना निदेशालय के चक्कर न काटने पड़ें। सूचना विभाग से जारी होने वाले विज्ञापनों की समुचित डीपीआई वाली साफ्ट कॉपी इसी पोर्टल पर उपलब्ध होगी, जिसे आरओ के साथ डाउनलोड किया जा सकेगा। इसके अलावा सभी समाचार पत्र पत्रिकाओं का डेटा बेस भी इसी साफ्टवेयर पर उपलब्ध होगा।

Pin It