‘हर घर नल’ योजना के लिए 6 हजार करोड़ का ऐलान

‘हर घर नल’ योजना के लिए 6 हजार करोड़ का ऐलान

विकास और रोजगार का माध्यम पर्यटन बनेगा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि विन्ध्य क्षेत्र ‘हर घर नल’ योजना के लिए चयनित है। इस योजना के लिए छह हजार करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। हर घर नल के तहत स्वच्छ व शुद्ध पेयजल की व्यवस्था की जाएगी। सीएम आज अपने लखनऊ आवास पर वीसी के जरिए विन्ध्याचल मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने जनप्रतिनिधियों से संवाद स्थापित करते हुए विकास कार्यों के सम्बन्ध में फीडबैक लेने के साथ सभी परियोजनाओं को समयबद्ध व अच्छी तरह से पूरा किए जाने के निर्देश दिए हैं, ताकि जनता को इनका लाभ प्राप्त हो सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मण्डल में विकास और रोजगार का माध्यम पर्यटन हो सकता है। पर्यटन विकास की योजनाओं को विशेष ध्यान देते हुए पूरा किया जाए। विन्ध्यवासिनी धाम क्षेत्र का विकास पर्यटन को बढ़ावा देगा। उन्होंने अष्टभुजा और काली खोह में रोप-वे तक पहुंच मार्ग एवं पेयजल आदि की सुविधा उपलब्ध कराए जाने के सम्बन्ध में निर्देश दिए।

50 करोड़ से अधिक की आठ परियोजनाएं निर्माणाधीन

मुख्यमंत्री ने मण्डलायुक्त विन्ध्याचल, मिर्जापुर, सोनभद्र और भदोही के जिलाधिकारियों से विकास कार्यों की प्रगति के संबंध में जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। जबकि मण्डलायुक्त विन्ध्याचल ने सीएम को बताया कि इस समय 50 करोड़ रुपए से अधिक की आठ परियोजनाएं निर्माणाधीन हैं। इसके अलावा उन्होंने सीएम को जनपद न्यायालय भदोही में 18 कोर्ट रूम निर्माण कार्य, राजकीय इंजीनियरिंग कॉलेज सोनभद्र, रॉबर्ट्सगंज नगर पालिका परिषद पुनर्गठन पेयजल योजना, राजकीय मेडिकल कॉलेज सोनभद्र, अटल आवासीय विद्यालय, वाराणसी-शक्तिनगर मार्ग के चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण, अमृत योजना आदि के बारे में जानकारी दी। मिर्जापुर के जिलाधिकारी ने सीएम को बताया कि जनपद में 10 से 50 करोड़ रुपए के मध्य की लागत की 12 परियोजनाएं संचालित हैं। हर घर नल योजना के तहत पांच विकास खण्डों का सर्वे कार्य पूर्ण हो चुका है। भदोही जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में 10 से 50 करोड़ रुपए की लागत की ती योजनाओं पर कार्य चल रहा है, सोनभद्र जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में 10 से 50 करोड़ रुपए की लागत की 13 परियोजनाएं निर्माणाधीन हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *